बाजपट्टी (सीतामढ़ी), संसू। थाना क्षेत्र नरहा कला गांव गांव में रविवार को रसोई गैस लीक होने से बड़ा हादसा हो गया। इसमें आठ लोग गंभीर रूप से झुलस गए। इसमें एक युवक समेत सात बच्चे हैैं। सभी को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया। चिकित्सक ने बताया कि प्राथमिक उपचार के बाद स्थिति सामान्य है। सभी अस्पताल में भर्ती हैैं। किसी की स्थिति बिगड़ी तो सदर अस्पताल भेजा जाएगा। इस बीच सूचना के बाद सीओ भोगेंद्र यादव पुलिस बल के साथ अस्पताल पहुंचे। झुलसे लोगों और स्वजनों से हालचाल लिया। झुलसे लोगों में नरहा कला गांव निवासी राधेश्याम राय (32), रौशनी कुमारी (5), अरङ्क्षवद कुमार (6), सुलेखा कुमारी(7), गनिता कुमारी (11), रवि किशन (13), अर्जुन कुमार(15), विवेक कुमार (10) हैं। बताया गया कि मोहन राय के यहां श्राद्ध भोज के लिए खाना बन रहा था। इसी दौरान रसोई गैस लीक करने लगी और उसमें आग पकड़ ली। आसपास बैठे बच्चे आग की चपेट में आकर झुलस गए। हालांकि, ग्रामीणों की तत्परता से आग पर काबू पा लिया गया। 

सिलेंडर खाली करने के दौरान हुआ हादसा

बताया गया कि सिलेंडर को खाली करने के दौरान गैस लीक हुई थी। आंगन में खेल रहे सात बच्चे और एक युवक चपेट में आ गए। हादसे के चलते कोई कार्यक्रम नहीं हो पाया। गांव में मायूसी छा गई। स्वजनों ने कहा कि वेंडर को गैस रीफिङ्क्षलग करने से मना किया था। वह नहीं माना। कहा कि खाली सिलेंडर का काम है। वह जबरन वह गैस रीफिङ्क्षलग करने लगा। इससे आग लग गई।  

फरार जाली नोट तस्कर के घर की कुर्की

जासं, मुजफ्फरपुर : जाली नोट के मामले में करीब 16 साल पूर्व पेशी के दौरान कोर्ट परिसर से फरार तस्कर मो. अशरफ के घर पर पुलिस ने कुर्की जब्ती की कार्रवाई की। अशरफ मधुबनी जिले के बेनीपट्टी के मिकया का रहने वाला है। बता दें कि गत दिनों समीक्षा के दौरान लंबित मामला पकड़ में आने के बाद नगर थाने की पुलिस ने स्थानीय थाने की टीम के साथ मधुबनी में आरोपित के घर पर कुर्की की कार्रवाई की। बता दें कि अशरफ को 2002 में कांटी थाने की पुलिस के जाली नोट के साथ पकड़ा था। पूछताछ में नेपाल के तस्करों से उसके सांठगांठ मिले थे। इसके बाद उसे जेल भेज दिया गया था। जेल से कोर्ट में पेशी के दौरान वह 2005 में भाग निकला था। मामले में नगर थाने में कांड दर्ज कराया गया था।

Edited By: Ajit Kumar