मुजफ्फरपुर, जेएनएन। स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत एरिया बेस्ड डेवलपमेंट एबीडी क्षेत्र स्थित 50 सरकारी भवनों को सौर ऊर्जा से रोशन किया जाएगा। योजना को जमीन पर उतारने के लिए नगर आयुक्त सह स्मार्ट सिटी कंपनी के प्रबंध निदेशक मनेश कुमार मीणा ने सोमवार को बिहार रिन्युएबल एनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी ब्रेडा के अधिकारियों के साथ बैठक की।

बैठक में एक सप्ताह के अंदर मोमोरेंडम ऑफ अंडर स्टैंडिंग एमओयू पर हस्ताक्षर होगा। नगर आयुक्त ने कहा कि काम को शीघ्रता से शुरु किया जाएगा ताकि स्मार्ट सिटी की परिकल्पना को पूरी की जा सके।

एबीडी एरिया से बाहर योजना का चयन, लगी रोक

स्मार्ट सिटी कंपनी के पदाधिकारी एवं कंसल्टेंट की नासमझी के कारण प्रोजेक्ट के विपरीत चयनित क्षेत्र से बाहर की योजना का चयन कर समय एवं पैसे की बर्बादी की गई। जुब्बा सहनी पार्क व खबड़ा चिल्ड्रेंस पार्क इसका उदाहरण है। दोनों पार्क के विकास के लिए करोड़ों का डीपीआर बनाया गया, फिर उसका टेंडर किया गया। लेकिन बाद में उसे स्थगित कर दिया गया। इन दोनों योजनाओं का डीपीआर बनने से लेकर विज्ञापन निकालने तक पैसे की बर्बादी की गई।

नगर आयुक्त सह स्मार्ट सिटी कंपनी के प्रबंध निदेशक मनेश कुमार मीणा ने कहा कि एबीडी (एरिया बेस्ड डेवलपमेंट) के बाहर यदि किसी योजना को लेना है तो सरकार से इसकी अनुमति लेने के साथ कई अन्य प्रक्रिया को पूरी करनी होगी। लेकिन बिना किसी प्रक्रिया के दोनों पार्क को शामिल कर लिया गया था। बाद में दोनों पार्क को प्रोजेक्ट से बाहर किया गया। उन्होंने कहा कि दोनों पार्को के विकास की योजना को प्रतीक्षा सूची में रखा गया है। अब सरकार से स्वीकृति मिलने के बाद ही इन पर आगे काम बढ़ पाएगा।  

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस