मुजफ्फरपुर, जेएनएन। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभान्वित कृषकों को किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी लोन) देने हेतु जिले के सभी इलाकों में एक पखवारे का अभियान चलाया जाएगा। मंगलवार को प्रेसवार्ता कर जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष ने उक्त बातों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि 12 से 27 फरवरी तक केसीसी ऋण दिलाने को लेकर अभियान चलेगा।

 डीएम ने कहा कि इस योजना के तहत संबंधित किसानों की पूरी डिटेल्स विभाग के पास है। इसलिए उन्हें किसी तरह का कोई अतिरिक्त कागजात देने की जरूरत नहींं है। उन्हें एक पेज का फार्म भरकर निकटतम बैंक शाखा व किसान सलाहकार के पास जमा कर देना है। डीएम ने कहा कि जिला स्तर से  इसकी मॉनीटङ्क्षरग भी की जाएगी। साथ ही सभी बैंकों के साथ इसी मुद्दे पर 15 फरवरी को बैठक भी बुलाई गई है। जिसमें सभी बैंकों के अधिकारी शामिल होंगे। 

बिचौलिए की जरुरत नहीं

डीएम ने कहा कि इसमें किसी बिचौलिए की जरूरत नहीं है। फार्म निशुल्क है। एक पेज का फार्म है उसे भरकर जमा कर देना है। प्रेस वार्ता में डीएम के साथ एलडीएम डॉ. एनके सिंह समेत अन्य पदाधिकारी शामिल थे। 

इन बिंदुओं पर दिए गए निर्देश

- ग्राम सभा कर पीएम किसान योजना के लाभुकों को केसीसी लोन हेतु प्रेरित किया जाएगा। 

- पीएम किसान योजना के लाभुकों का जमीन से संबंधित ब्योरा पोर्टल पर सत्यापित है।

- फिर से कोई कागजात जमीन से संबंधित 1.60 लाख तक के आवेदन के साथ नहीं लेना है।  

आंकड़ों पर एक नजर

- जिले में कुल कृषि योग्य भूमि दो लाख 47 हजार 721 हेक्टेयर है। 

- जिले में कुल रैयती कृषकों की संख्या दो लाख तीन हजार 555 है। 

- पीएम किसान योजना के अंतर्गत कुल आवेदनों की संख्या तीन लाख 76 हजार 33 है। 

- जिलास्तर पर अपर समाहर्ता आपदा प्रबंधन के द्वारा सत्यापित कर अग्रसारित आवेदनों की संख्या तीन लाख चार हजार 679 है। 

- पीएम किसान पोर्टल पर अपलोड आवेदनों की संख्या दो लाख 97 हजार 156 है।

Posted By: Murari Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस