समस्‍तीपुर, जेएनएन। जिले के विभूतिपुर थाना क्षेत्र के देसरी कर्रख पंचायत के पकाही टोले में अपराधियों ने एक किसान की गोली मारकर हत्या कर दी। यह घटना मंगलवार की रात की है जब वह अपने घर पर सोए हुए थे। वे जदयू से जुड़े हुए थे। इस घटना से आक्रोशित लोग पुलिस अधीक्षक को घटनास्थल पर बुलाने की मांग कर रहे हैं। स्थानीय पुलिस लोगों को समझा बुझाकर शांत कराने की कोशिश में जुटी है। 

 जानकारी के अनुसार 75 वर्षीय सीाताराम महतो अपने दरवाजे पर सोए हुए थे। कुछ अपराधी मंगलवार की रात करीब पौने दस बजे उनके घर पर पहुंचे। सीताराम महतो को जगाकर कहा कि अपने पुत्र वैद्यनाथ महतो को बुलाओ। ऐसा नहीं करने पर अपराधियों ने उसे ही गोली मारकर हत्या कर दी। बताया जाता है कि इस घटना के बाद गांव के लोग आक्रोशित हो गए। ग्रामीणों का कहना है कि शराब के धंधे में शामिल अपराधियों ने ही इस घटना को अंजाम दिया है।

 घटना की सूचना पर विधायक रामबालक सिंह, थानाध्यक्ष कृष्णचंद्र भारती पुलिस बल के साथ पहुंचे। विधायक के साथ बड़ी संख्या में जदयू कार्यकर्ता भी घटनास्थल पर पहुंचे। बताया जाता है कि सीताराम महतो जदयू से जुड़े हुए थे। वे मवेशी का भी कारोबार करते थे। आक्रोशित लोग एसपी को घटनास्थल पर बुलाने की मांग कर रहे थे। लोगों का कहना था कि शराब के धंधेबाजों ने इस क्षेत्र में आतंक मचा रखा है। स्थानीय लोग पुलिस पर शराब के धंधेबाजों को संरक्षण देने का भी आरेाप लगा रहे थे। जदयू कार्यकर्ताओं ने कहा कि पुलिस के संरक्षण में ही शराब का कारोबार हो रहा है।

 घटना के कारणों के बारे में लोगों का कहना है कि शराब के धंधेबाजों के द्वारा दिन में एक व्यक्ति के साथ मारपीट की गई थी। जिसका विरोध मृतक सीताराम महतो के पुत्र वैद्यनाथ महतो ने किया था। उस समय तो वे लोग चले गए। फिर जब कुछ लोगों के साथ मारपीट करने के लिए पहुंचा तो ग्रामीणों ने ईंट पत्थर मारकर उन सबों को खदेड़ दिया था। जिसमें शराब के धंधेबाजों के गाडिय़ों का शीशा भी टूट गया था।

 इस मारपीट की सूचना विभूतिपुर थाना के पुलिस को भी दी गई थी। परंतु पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। इसी गुस्से में आकर रात में वैद्यनाथ महतो की ही हत्या करने के लिए वे सब पहुंचे थे। लेकिन उसके पिता द्वारा अपने पुत्र को नहीं बुलाने जाने के कारण उसे ही गोली मारकर हत्या कर दी गई। इसी को लेकर गांव के लोग ज्यादा आक्रोशित हैं। इधर, इस घटना के बाद से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। थानाध्यक्ष कृष्णचंद्र भारती ने बताया कि मृतक के पुत्र के होश में आते ही उसका बयान लिया जाएगा और इसमें शामिल अपराधियों को पकड़कर कड़ी सजा दिलाई जाएगी। 

Posted By: Murari Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस