मुजफ्फरपुर, जेएनएन। पूर्व मेयर समीर हत्या मामले में पुलिस जांच की प्रगति जानने के लिए उनके परिजन मंगलवार को नगर थाना पहुंचे। पुलिस अधिकारियों से केस की अद्यतन स्थिति की जानकारी ली। परिजन के अनुसार पुलिस की तरफ से जवाब मिला कि जो कार्रवाई होनी थी हो चुकी है। वरीय अधिकारियों से जो भी निर्देश मिलेगा उसके आधार पर आगे की कार्रवाई होगी। असंतुष्ट परिजन ने सवाल उठाया कि सुपरविजन में दिए गए निर्देश के अनुसार पुलिस जांच नहीं कर रही है।

  सुपरविजन में एक प्रॉपर्टी डीलर व कल्याणी के राजू तुरहा की गतिविधियों पर आइओ को जांच का निर्देश दिया गया था लेकिन जांच की गति अभी धीमी है। इस सवाल के जवाब में पुलिस चुप हो गई। बता दें कि करीब आठ महीने पूर्व चंदवारा इलाके में बाइक सवार अपराधियों ने एके 47 से कार सवार समीर कुमार व उनके चालक को गोलियों से भून दिया था। मौके पर ही दोनों की मौत हो गई थी।

  मौके से कार व मोबाइल जब्त किया गया था। कोर्ट के आदेश पर कार रिलीज हो चुकी है। लेकिन समीर कुमार का मोबाइल अब तक परिजन को नहीं मिला है। उनका कहना है कि मोबाइल रिलीज कराने के लिए कोर्ट में आवेदन दिया गया था। उसी के संदर्भ में थाने से रिपोर्ट मांगी गई है। मोबाइल का कागजात मुहैया कराने की कवायद की जा रही है। इसके बाद कोर्ट के आदेश पर मोबाइल रिलीज किया जाएगा।

  बताते चलें कि हत्या मामले में शूटर गोविंद के साथ सहयोगी सुजीत, पिंटू सिंह, ओमकार, सुशील छापडिय़ा, श्यामनंदन मिश्रा और नवीन को न्यायिक हिरासत में भेजा गया था। ठोस साक्ष्य के साथ सभी आरोपितों पर चार्जशीट दायर किया जा चुका है। ट्रायल की दिशा में भी कार्रवाई चल रही है। बताया गया कि सेशन ट्रायल के लिए मामला जिला एवं सत्र न्यायाधीश के कोर्ट में विचाराधीन है। इसकी अगली सुनवाई 20 जून को है। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस