पश्‍च‍िम चंपारण, जासं । बेतिया के मे. सत्यनारायण पेट्रोल पंप से पेट्रोल में पानी मिलकार देने से संबंधित वीडियो वायरल करने का मामला तूल पकड़ लिया है। पंप के मालिक मनोज कुमार गोयनका ने वायरल वीडियो को फर्जी बताकर आईओसी में शिकायत की है और पंप पर लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच कराकर दोषी पर कार्रवाई की मांग की है। उनका कहना है कि इस तरह का वीडियो बनाकर व्यवसायी की प्रतिष्ठा को धूमिल किया गया है। उनका कहना है कि वायरल वीडियो में यह बताया जा रहा है कि उसने बोतल में पेट्रोल लिया था, जिसमें पानी निकला है। संभव है कि व्यवसायी को बदनाम करने की नीयत से पहले से बोतल में पानी लेकर ग्राहक आया हो। उनके यहां बोतल में पेट्रोल या डीजल देने पूरी तरह से प्रतिबंध है। साजिश के तहत पंप के कर्मियों से मजबूरी बताकर बोतल में पहले से पानी रखकर पेट्रोल लेकर वीडियो बनाकर वायरल किया गया है।

बैंक के बड़े बकायदारों पर भी कार्रवाई शुरू, एक गिरफ्तार

योगापट्टी। उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक शाखा मच्छरगावां के बड़े डिफाल्टरों पर कार्रवाई शुरू हो गई है। इसके तहत ऋणी सिरिसिया निवासी श्यामदेव प्रसाद को शनिवार के दिन गिरफ्तार किया गया है। बैंक मैनेजर अवनीश कुमार झा ने बताया कि बैंक के बड़े बकायादार जिनपर बैंक द्वारा सर्टिफिकेट केस किया है, उसमें सेहुडवा के अशोक कुमार पांडेय, सिसवा भुमिहार के मुक्ति प्रसाद राय पर वारंट निर्गत हो चुका है। इनकी गिरफ्तारी कभी भी की जा सकती है। वही बैंक के अन्य बड़े बकायेदार जरलपुर गांव के लालो चौधरी, अहिरौली गांव के रामेश्वर हजरा, जगदंबापुर गांव के मुखलाल राउत, रमपुरवा गांव के गंगा बली यादव, अनिल पांडेय, कमलेश यादव, रत्नाकर कुमार पांडेय, परेगवा गांव के प्रमोद प्रसाद, मदन प्रसाद कुशवाहा, राजनारायण पासवान, सुरेंद्र महतो, कवलापुर गांव के लालबाबू प्रसाद, रूदल भगत, कृष्णा प्रसाद, अनिल कुमार गुप्ता, संजय कुमार, परमा साह, जय नारायण प्रसाद, शंभू राम, बच्चा यादव, बदरी लाल चौधरी, बच्चा गद्दी शामिल है। सभी शाखा मच्छरगावां के बड़े डिफल्टर है। क्षेत्रीय प्रबंधक रामनाथ मिश्रा ने सभी ऋणियों से आग्रह किया हैं कि ससमय ऋण की अदायगी कर देंख् अन्यथा इन सभी के ऊपर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।