मुजफ्फरपुर, अमरेंद्र तिवारी। कोरोना वायरस (coronavirus) से बचने के लिए हर व्यक्ति दिन में कई बार सेनेटाइजर (senitizer) का इस्तेमाल कर रहा है। सुरक्षा की दृष्टि से यह आवश्यक भी है, लेकिन इसका अधिक उपयोग स्किन (skin) के लिए नुकसानदायक है। हाथ में सूखापन, एलर्जी और खुजली सहित अन्य समस्याएं हो सकती हैं। ऐसे में सावधानी बरतनी चाहिए। 

कोरोना के चलते लोग साफ-सफाई पर अधिक ध्यान दे रहे हैं। हाथ साफ करने के लिए साबुन की जगह सेनेटाइजर का इस्तेमाल अधिक कर रहे हैं। यह आदत सी बन गई है। एसकेएमसीएच (SKMCH) के चर्म रोग विभाग के पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ. एमके नारायण का कहना है कि सेनेटाइजर के इस्तेमाल में यदि सावधानी नहीं रहेगी तो हाथ में सूखापन, एलर्जी, खुजली और अन्य समस्याएं (Problems) हो सकती हैं। ऐसी समस्याओं को लेकर कई मरीज चिकित्सकों से सलाह ले रहे हैं।
 
स्किन में हो सकती जलन और खुजली की समस्या

सेनेटाइजर में विषैले तत्व और बेंजाल्कोनियम क्लोराइड होता है, जो कीटाणुओं और बैक्टीरिया को हाथों से निकाल देता है, लेकिन यह हमारी त्वचा के लिए अच्छा नहीं होता। इससे जलन और खुजली जैसी समस्याएं होती हैं। सैनिटाइजर में खुशबू के लिए  फैथलेट्स नामक रसायन का उपयोग किया जाता। इसकी मात्रा जिस सेनेटाइजर में ज्यादा होती है, वह हानिकारक है। इसी तरह अत्यधिक खुशबू वाला सैनिटाइजर लिवर, किडनी, फेफड़े तथा प्रजनन तंत्र को भी नुकसान पहुंचाता है। त्वचा भी ड्राई हो जाती है। सेनेटाइजर में ट्राइक्लोसन नामक एक केमिकल होता है, जिसे त्वचा सोख लेती। यह त्वचा से होते हुए रक्त में मिल जाता है। इससे मांसपेशियों के कोऑॢर्डिनेशन को नुकसान पहुंचाने का खतरा रहता है। 

 
सैनिटाइजर के उपयोग के बाद लगाएं नारियल तेल

सेनेटाइजर का प्रयोग कम से कम और साबुन का ज्यादा करें। नारियल तेल में कपूर घोलकर रखें और रात में सोते समय उसे हाथ में लगा लें। त्वचा मुलायम रहेगी। अच्छी क्वालिटी और जिसमें 60 फीसद से ऊपर अल्कोहल हो उसका प्रयोग करें। सेनेटाइजर के इस्तेमाल के बाद हाथ में नारियल तेल या किसी तरह के मॉइस्चराइजर का उपयोग करें। साबुन से हाथ धोने के बाद भी ऐसा ही करें।

Posted By: Rajesh Thakur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस