दरभंगा, जेएनएन। गुरुग्राम से दिव्यांग पिता को साइकिल पर बैठाकर 1200 किलोमीटर दूर अपने गांव सिरहुल्ली लाने वाली ज्योति कुमारी की दुनिया बदलने लगी है। दैनिक जागरण की पहल पर लोग उसकी मदद को आगे आ रहे। शनिवार को बिहार प्रादेशिक मारवाड़ी सम्मेलन के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष सह रोटरी क्लब के सदस्य नीरज खेडिय़ा ज्योति से मिलने उसके घर पहुंचे। उन्होंने ज्योति के हौसले की प्रशंसा करते हुए साइकिल दी। हरसंभव मदद का भरोसा भी दिया। दैनिक जागरण की मुहिम की प्रशंसा करते हुए नीरज ने बताया कि राज्य में जहां कहीं भी ज्योति को मदद की जरूरत होगी, मारवाड़ी सम्मेलन आगे रहेगा। ज्योति ने न केवल जिले, बल्कि पूरे राज्य का नाम रोशन किया है।

साइकिल मिलने ही ज्योति खुशी से झूम उठी। पास खड़े लोगों ने ताली बजाकर उसका हौसला बढ़ाया तो उसकी और उसके परिवार की आंखें खुशी से भर आईं। नई साइकिल मिलते ही ज्योति ने उसपर सवार होकर कुछ दूर चक्कर लगाया। मानों वह बता रही थी कि आने वाली चुनौतियों के लिए तैयार है।

परिवार का सिर गर्व से किया ऊंचा

 ज्योति ने दैनिक जागरण का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि अब वो पूरी शिद्दत से साइकिङ्क्षलग की तैयारी में जुटेगी। मां फूलो देवी ने बताया कि ज्योति को बेटी के रूप में पाकर धन्य महसूस कर रही। उसने परिवार का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया। जब से गुरुग्राम से लौटी है, कोई न कोई मिलने पहुंच रहा है। कोई फोटो ले रहा तो कोई हौसला बढ़ा रहा। कई लोग मदद को आगे आए। कुछ न कुछ देकर गए हैं। जब यह बात ज्योति के पिता को मालूम हुई, तब से वे क्वारंटाइन सेंटर से घर आने को बैचेन हैं। इधर, ज्योति के दो छोटे भाई और दोनों बहनें उसकी उपलब्धि पर फूले नहीं समा रहे।

लायंस क्लब ऑफ दरभंगा आज करेगा मदद

दैनिक जागरण की मुहिम के तहत रविवार को लायंस क्लब ऑफ दरभंगा ज्योति की मदद करेगा। क्लब के अध्यक्ष एसएम माइकल ने बताया कि ज्योति का सम्मान करते हुए उसके परिवार को एक महीने का राशन दिया जाएगा, ताकि लॉकडाउन में किसी तरह की दिक्कत न हो।

शिक्षा विभाग ने ज्योति का कराया स्कूल में दाखिला

राज्य शिक्षा विभाग की ओर से शनिवार को दरभंगा के जिला शिक्षा पदाधिकारी डा. महेश प्रसाद सिंह के नेतृत्व में एक टीम ज्योति के गांव पहुंची और प्लस टू उच्च विद्यालय, पिंडारूच में नौवीं कक्षा में उसका नामांकन कराया। इस मौके पर ज्योति के पिता मोहन पासवान तथा मां फूलो देवी मौजूद थीं। बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के राज्य परियोजना निदेशक संजय सिंह टीम के साथ ऑनलाइन जुड़े रहे।

निदेशक संजय सिंह के मुताबिक बिहार शिक्षा परियोजना परिषद की ओर से ज्योति के साहस एवं उसकी पितृभक्ति को सम्मानित किया गया। ज्योति की स्पोर्टिंग स्किल को आगे बढ़ाने में शिक्षा विभाग उसकी पूरी मदद करेगा। ज्योति ने वर्ष 2017 में मध्य विद्यालय सिरहुल्ली से आठवीं कक्षा की पढ़ाई पूरी की थी, लेकिन आॢथक कठिनाइयों की वजह से आगे पढ़ाई जारी नहीं रख सकी। अब नौवीं कक्षा में नामांकन होने से वह आगे की पढ़ाई जारी रख सकेगी। शिक्षा विभाग की टीम ने भी ज्योति को एक नई साइकिल, दो जोड़ी पोशाक, जूता-मोजा, स्कूल बैग और नौवीं कक्षा की पुस्तकें भेंट की है ताकि वह अपनी पढ़ाई जारी रख सके।

 

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस