मुजफ्फरपुर, जासं। कोरोना संक्रमण के खतरे के बीच सिकंदरपुर मुक्तिधाम में तैनात नगर निगम के कर्मचारी सेवा की मिसाल पेश कर रहे हंै। कोरोना से मौत के बाद जिसे उसके स्वजन तक छूने से डर रहे हैं उनका वे पूरी रीति-रिवाज से अंतिम संस्कार कर रहे हैैं। एक दिन में 40 शवों का दाह-संस्कार करने के बाद भी सेवा को तत्पर रहते हैं। उनको सम्मानित करते हुए गौरव का एहसास हो रहा है। ये बातें महापौर सुरेश कुमार ने मुक्तिधाम में तैनात डेढ़ दर्जन कर्मचारियों को सम्मानित करने के बाद कहीं। 

मुक्तिधाम परिसर में शनिवार को आयोजित सादे समारोह में उनको सम्मानित किया गया। नगर आयुक्त विवेक रंजन मैत्रेय ने कहा कि इस संक्रमण काल में मुक्तिधाम में सेवा दे रहे कर्मचारियों की जितनी सराहना की जाए कम होगी। उन्होंने कहा कि कोविड काल में सेवा देने वाले सभी कर्मचारियों की तस्वीर व नाम यहां लगाया जाएगा ताकि उनके योगदान को लोग जान सकें। समारोह को मुक्तिधाम प्रबंधन समिति के संयोजक डॉ. रमेश केजरीवाल, पार्षद सुनीता भारती, व्यवसायी ऋषि कुमार, सुनील बंका, नगर प्रबंधक ओम प्रकाश व प्रधान सहायक अशोक कुमार ङ्क्षसह ने संबोधित किया। संचालन वार्ड 20 के पार्षद संजय कुमार केजरीवाल ने किया। सम्मानित कर्मचारियों में मुक्तिधाम प्रभारी रमेश ओझा, सहायक अशोक कुमार, सुजीत कुमार, दिनेश मल्लिक, चंचल मल्लिक, उदय कुमार, सुरेश मल्लिक, अजय मल्लिक, राजा मल्लिक, गोलू मल्लिक, राकेश मल्लिक, संतोष राम, मनोज कुमार, मुन्ना सहनी, रवि कुमार व लक्ष्मी साह शामिल हैं।