दरभंगा, जासं। राज्यसभा सदस्य सह कांग्रेस के चुनाव प्रभारी डा. अखिलेश प्रसाद स‍िंह ने कहा कि राज्य व केंद्र की सरकार मिलकर महंगाई और बेरोजगारी बढ़ा रही है। कांग्रेस ही एक ऐसी पार्टी है जो देश व राज्य से इसका खात्मा कर सकती है। राज्य सरकार के मुखिया नीतीश कुमार आरक्षण की बात करते हैं, लेकिन उसके अनुसार काम कहां हो पाता है? कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने जिस तरीके से उत्तरप्रदेश में महिलाओं के लिए विधानसभा चुनाव में आरक्षण की घोषणा की है, वैसा करने के लिए दम चाहिए। इस तरह का माद्दा केवल कांग्रेस नेताओं के पास ही हो सकता है।

वर्तमान में केंद्र और राज्य की एनडीए सरकार को न तो महिलाओं के हित से कोई लेनादेना है, न इनकी प्राथमिकता में युवाओं को रोजगार देना है। किसानों के लिए स‍िंंचाई का इंतजाम तो दूर, ये किसानों की फसल की उचित कीमत देना भी मुनासिब नहीं समझते। वे रविवार को कुशेश्वरस्थान (अजा) विस सीट से कांग्रेस के प्रत्याशी अतिरेक कुमार के पक्ष में हिरनी गांव में आयोजित बैठक को संबोधित कर रहे थे। कहा कि कुशेश्वरस्थान को ही देख लीजिए। पिछले पंद्रह साल में यहां की जनता ने जिस पार्टी और गठबंधन पर भरोसा कर विधायक चुना, वो बस विधायक बने।

इलाके के विकास का आलम यह है कि यहां आदमी हर साल बाढ़ की त्रासदी झेलता है। आवागमन का साधन एकमात्र नाव होने के कारण लोग अक्सर हादसे के शिकार होते हैं। फिर भी सरकार सिर्फ चुनाव के वक्त बाढ़ के स्थाई निदान की बात करती है। चुनाव जीतने के बाद जनता को भूल जाती है। इस बार के उपचुनाव में कांग्रेस ने अतिरेक के रूप में एक ऐसा युवा प्रत्याशी दिया है जो विकास की परिभाषा भी समझते हैं। विकास के लिए कांग्रेस ही विकल्प है। बैठक के बाद कांग्रेस नेताओं ने जनसंपर्क अभियान भी चलाया। कांग्रेस के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष कौकब कादरी, कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अनिल शर्मा ने वर्तमान स्थिति से लोगों को अवगत कराया। मौके पर पार्टी नेता कृपानाथ पाठक, जहानाबाद के नेता गोपाल शर्मा, कटिहार की पूर्व विधायक पूनम पासवान, प्रदेश प्रवक्ता धर्मवीर शुक्ला आदि थे।