मुजफ्फरपुर, जेएनएन। नव वर्ष 2020 के आगमन में मात्र एक दिन शेष है। मंगलवार की रात 12 बजे हम नए वर्ष में प्रवेश कर जाएंगे। नए वर्ष के स्वागत के लिए तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। कहीं भजन-कीर्तन के साथ नववर्ष उत्सव मनाया जाएगा तो कहीं सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। इस दिन जश्न के साथ वर्ष 2019 की विदाई होगी और नए वर्ष 2020 का अभिनंदन किया जाएगा।

होटल व रेस्तरां में इस दिन के लिए लजीज व्यंजनों की तैयारी चल रही है। घरों में भी नववर्ष को लेकर उत्साह का माहौल है। लोगों ने बाबा गरीबनाथ मंदिर व देवी मंदिर सहित अन्य मंदिरों में जाने की योजना बना रखी है। कई लोग 1 जनवरी को कटरा के चामुंडा स्थान और औराई स्थित बाबा भैरवनाथ मंदिर भी जाएंगे और अपनी खुशियां बांटेंगे। इसके अलावा उस दिन जुब्बा सहनी पार्क भी गुलजार रहेगा। इसके लिए निगम प्रशासन ने पूरी तैयारी की है। पार्क को सुंदर से सजाया गया है।

कई होटलों में झूमेगी रात

नववर्ष 2020 के स्वागत के लिए कई होटलों व रेस्तरां में गीत-संगीत व नृत्य के कार्यक्रम आयोजित होंगे। प्रवेश पास के ही द्वारा होगा। बाहर से आई कलाकारों की टीम सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करेगी।

गिरजाघरों में विशेष प्रार्थना सभाएं

नव वर्ष के स्वागत में गिरजाघरों में विशेष प्रार्थना सभाएं होंगी। लेनिन चौक स्थित सेंट फ्रांसिस असिसी चर्च, चक्कर चौक स्थित चर्च, गौशाला रोड स्थित जैक्सन मेमोरियल मैथोडिस्ट चर्च सहित कन्हौली चर्च में दिन भर लोगों का आना जारी रहेगा।

नववर्ष पर करेंगे पौधारोपण

ब्रह्मपुरा के ज्योतिषविद पंडित प्रभात मिश्र ने कहा कि मानव का अस्तित्व पृथ्वी और पर्यावरण पर निर्भर है। एक स्वस्थ एवं सुरक्षित पर्यावरण के बिना मानव समाज की कल्पना अधूरी है। पर्यावरण संरक्षण को ध्यान में रखकर मैंने नववर्ष के मौके पर पौधारोपण करने का निर्णय लिया है।

सेवानिवृत्त बैंककर्मी, मिठनपुरा एचएल गुप्ता पेड़ों की अंधाधुंध कटाई से वातावरण दूषित होता जा रहा है। स्वच्छ प्राणवायु के लिए लोग तरस रहे हैं। ऐसे में समय रहते यदि पौधे लगाकर उन्हें सुरक्षित और संरक्षित करना जरूरी है। यह ध्यान में रखते हुए मैंने नववर्ष के पहले दिन पौधरोपण करने का निर्णय लिया है।  

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस