मुजफ्फरपुर [जेएनएन]। सिवान के पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड के आरोपी सोनू कुमार सोनी के खिलाफ दायर चार्जशीट पर विशेष सीबीआइ कोर्ट ने संज्ञान लिया है। कमिटमेंट के बाद दौरा सुपुर्दगी सेशन ट्रायल के लिए जिला जज के न्यायालय में भेज दिया। सोनू एकमात्र आरोपी है, जिसके खिलाफ सीबीआइ ने चार्जशीट दाखिल की थी। 60 पेज की चार्जशीट में 51 साक्षी बनाए गए हैं।
13 मई को हुई भी पत्रकार हत्या
13 मई 2016 को सिवान के पत्रकार राजदेव रंजन की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस घटना में परिजनों ने राजद के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन को भी आरोपी बनाया है। पुलिस अब तक पुलिस पांच शूटरों को गिरफ्तार कर चुकी है।
जानकारी के अनुसार पुलिस को पता चला था कि लड्डन मियां के कहने पर राजदेव को गोली मारी गई थी। लड्डन मियां मोहम्मद शहाबुद्दीन का करीबी बताया जाता है। बाद में उसने सरेंडर कर दिया। फिलहाल इस केस की सीबीआइ जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें: जानिए, शहाबुद्दीन से जुड़े वो पांच कांड, जिनसे हिल गया था बिहार

शहाबुद्दीन की रिहाई के समय दिखा था कैफ
राजदेव की हत्या के बाद मुख्य आरोपी मोहम्मद कैफ फरार हो गया था। वह मो. शहाबुद्दीन के साथ उनकेजेल से रिहा होने के बाद दिखा था। इसके बाद पुलिस सक्रिय हुई और उसे गिरफ्तार किया था।
जावेद व कैफ को मिली जमानत
सीबीआइ की ओर से समय पर चार्जशीट दाखिल नहीं करने के कारण आरोपी जावेद मियां उर्फ जावेद भट्ट उर्फ जावेद अली को सीबीआइ की विशेष अदालत से जमानत मिल गई है। उसके खिलाफ सीबीआइ 90 दिनों की निर्धारित समय सीमा के अंदर चार्जशीट दाखिल नहीं कर सकी थी। उसे पिछले साल नौ नवंबर को न्यायिक हिरासत में लिया गया था। पहले इसी आधार पर मो. कैफ को भी जमानत मिली थी।
लड्डन की जमानत पर सुनवाई
इस बीच आरोपी लड्डन मियां ने जमानत के लिए अर्जी दी है। विशेष जज अनुपम कुमारी ने अर्जी को सुनवाई पर रखा है। पूर्व में पेशी के दौरान लड्डन मियां ने अपने अधिवक्ता के माध्यम से बताया कि वह निर्दोष है। उसे इस हत्याकांड में एक डीएसपी के इशारे पर फंसाया गया है। एक जमीन के मामले में उन्होंने धमकी दी थी कि तुमको हैसियत बता देंगे।

यह भी पढ़ें: तिहाड़ में कुख्यात छोटा राजन के पड़ोसी बने शहाबुद्दीन

चार्जशीट की कुछ खास बातें
- सीबीआइ की पहली चार्जशीट सोनी के खिलाफ 21 दिसम्बर 2016 को दाखिल
- हत्याकांड में चार्जशीट पर लिया गया पहला संज्ञान
- अन्य आरोपियों से पृथक सेशन ट्रायल के लिए कमिटमेंट
- चार्जशीट में 51 साक्षियों को किया गया शामिल
- चार्जशीट में 60 दस्तावेज शामिल

Edited By: Amit Alok