मोतिहारी, जासं। राष्ट्रीय राजमार्ग पर थाना क्षेत्र अंतर्गत एसआरएपी कॉलेज के समीप शनिवार की शाम दरभंगा से जयपुर जा रही एक बस दुर्घटनाग्रस्त हो गई। इससे बस पर सवार करीब एक दर्जन यात्रियों को हल्की चोट आई है। दुर्घटना के बाद बस में सवार यात्रियों के बीच हड़कंप मच गया। गनीमत रहा कि मामूली चोट के बाद भी सभी यात्री सुरिक्षत थे। दुर्घटना में बस के आगे का शीशा चकनाचूर हो गया। बस में सवार यात्री मधुबनी जिला के अनराठाढ़ी थाना क्षेत्र के गंगवार गांव निवासी ज्ञानी पासवान ने बताया कि उनका लड़का राजस्थान में मजदूरी का काम करता है। वे अपने लड़के पास आरजे 14 पी ई 4515 नंबर की रिंकू ट्रेवल्स नामक बस से जयपुर जा रहे थे। बस में करीब 50-55 यात्री सवार थे। बताया कि बस के आगे एक ट्रक जा रहा था। ट्रक चालक द्वारा अचानक ब्रेक लेने के कारण बस चालक ने नियंत्रण खो दिया और ट्रक में पीछे से टक्कर मार दी। इससे बस में सवार करीब दर्जनभर यात्रियों को हल्की चोट आई है। दुर्घटना के बाद ट्रक चालक ट्रक लेकर फरार हो गया। वहीं सूचना पर एसआई भूपेंद्र यादव सदलबल पहुंचें व घटना की जानकारी ली। कुछ देर रुकने के बाद दुर्घटना ग्रस्त बस यात्रियों को लेकर गंतव्य की ओर निकल गई।

श्रीनगर से किशनगंज जा रही बस मेहसी में हुई दुर्घटनाग्रस्त

मेहसी। राजमार्ग 28 पर मानर बरजी के निकट श्रीनगर से किशनगंज जा रही मजदूरों से लदी बस के दुर्घनाग्रस्त हो जाने से बस पर सवार करीब एक दर्जन मजदूर जख्मी हो गए। घटना की सूचना पर पहुंची मेहसी पुलिस ने ग्रामीणों के सहयोग से सभी घायल मजदूरों को मेहसी सीएचसी पहुंचाया। जहां उनका इलाज जारी है। सभी मजदूर खतरे से बाहर है। घायलों में ङ्क्षसघारी खोजा धवन किसनगंज निवासी मोहम्मद असगर, कठोरा पलसी खगडिय़ा निवासी मोहम्मद मोनाजिर, मूसल डेंगा बहादुर गंज किसन गंज निवासी बाबुल अख्तर, गोछि धामन किसन गंज निवासी रकीबुल, आलम, आकिल, दिलबर, संजार आलम, वसीम, तनवीर, जीशान,जैनुद्दीन, अशरफ सहित अन्य शामिल है। घटना देर संध्या की है। थानाध्यक्ष सुनील कुमार ङ्क्षसह ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि सभी मजदूर बकरीद के अवसर पर बस रिजर्व कर श्रीनगर से किशनगंज जिला के बहादुरगंज जा रहे थे। बस पर करीब 25 मजदूर सवार थे। मानर बरजी स्थित कौलेश्वरी पुल के निकट एक बाइक को बचाने के क्रम में बस असंतुलित होकर राजमार्ग के बगल में करीब पांच फीट गड्ढे में बनी खंडहरनुमा मकान को तोड़ती हुई अंदर समा गई। चालक के बुद्धिमानी से मजदूरों के जान माल की क्षति नहीं हुई। पुलिस ने बस को अपने अभिरक्षा में ले लिया है। सीएचसी के चिकित्सा पदाधिकारी डॉ रौनक राज ने बताया कि सभी घायलों को हल्की चोटे आई है। जिसे प्राथमिक उपचार के बाद छोड़ दिया गया है। सभी खतरे से बाहर है।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh