लिंक फेल होने से बीएसईबी के मुजफ्फरपुर क्षेत्रीय कार्यालय में अक्सर कामकाज हो जाता ठप, जानें क्यों हो रहा ऐसा

मुजफ्फरपुर, जेएनएन।  बिहार स्कूल परीक्षा समिति (बीएसईबी) के क्षेत्रीय कार्यालय में लिंक फेल रहा। इससे मैट्रिक व इंटर के प्रमाणपत्रों में सुधार का कार्य ठप रहा। यह स्थिति विगत दस दिनों से है। इससे उत्तर बिहार के विभिन्न जिलों से आए छात्र निराश होकर वापस होते हैं। सुबह आकर दिन भर लिंक आने का इंतजार करते हैं।

बोर्ड के सर्वर में है तकनीकी खराबी 

लिंक फेल होने की समस्या क्षेत्रीय कार्यालय स्तर से नहीं है बल्कि बोर्ड से सर्वर में तकनीकी खराबी होने से है। बोर्ड ने ऑनलाइन सिस्टम के सुचारू संचालन के लिए कंपनी को बदला है। लेकिन पहले जिस तरह की तकनीकी समस्याएं आती रहीं, वहीं हो रहा है। 

बढ़ी है छात्रों की परेशानी 

बोर्ड के क्षेत्रीय कार्यालय में 2018 तक के मैट्रिक व इंटर के अंक पत्रों व प्रमाणपत्रों में नाम आदि का सुधार होता है। दोनों के अंक पत्र उपलब्ध कराए जाते हैं। इसी प्रकार प्रमाणपत्रों की कॉपी भी दी जाती है। लिंक फेल होने से छात्रों की परेशानी बढ़ गई है।

असमंजस की स्थिति

बुधवार को ही सुबह इंटर के तीन चार प्रमाणपत्र बनने के बाद सर्वर बैठ गया। लिहाजा काम रुक गया। अब वहां मौजूद दर्जनों छात्र कर्मियों से पूछते रहे-कब ठीक होगा? कर्मी भी असमंजस में रहे। यहां से मोबाइल पर पटना मुख्यालय को सिस्टम ठप होने की सूचना दी जाती है। वहां से 15 मिनट में ठीक होने की बात कही जाती लेकिन, नहीं ठीक हुआ। ये स्थिति विगत दस दिनों से जारी है।कभी कुछ देर के लिए किसी समय लिंक आता है और फिर फेल हो जाता है। जरूरतमंद लोग आवेदन लेने पर जोर देते हैं। कर्मी यह कहकर ले लेते हैं कि शाम को अगर लिंक नहीं आता है तो वापस कर देंगे।

बीएसईबी क्षेत्रीय कार्यालय,मुजफ्फरपुर के उप सचिव कमरूज्जमां ने कहा कि प्रतिदिन मुख्यालय को जैसी स्थिति होती है, रिपोर्ट भेजते हैं। तकनीकी समस्या में सुधार किया जा रहा है। प्रतीक्षा तो जरूरतमंद छात्र छात्राओं को करनी पड़ेगी।  

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस