मुजफ्फरपुर। बिहार में चौमुखी विकास हो रहा है। सरकार राज्य के विकास और जनकल्याण के लिए समर्पित तो है ही, सामाजिक कुरीतियों को भी दूर कर रही है। उक्त बातें अल्पसंख्यक कल्याण सह गन्ना उद्योग मंत्री खुर्शीद उफॅ फिरोज अहमद ने बेतिया में थरूहट क्षेत्र के धोकराहा कालोनी में भ्रमण के दौरान लोगों की जन समस्याओं को सुनते हुए कही। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार न्याय के साथ विकास कर रही है। राज्य के विकास की रणनीति समावेशी, न्यायोचित और सतत होने के साथ-साथ आर्थिक प्रगति पर आधारित है। सरकार राज्य के लोगों को मूलभूत सुविधा उपलब्ध कराने के लिए कृतसंकल्पित है।कानून का राज सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। साथ ही कहा कि मुख्यमंत्री के कुशल नेतृत्व में लोगो से अपील की कि शराबबंदी की तरह ही दहेज प्रथा और बाल विवाह जैसी कुरीतियों को समाज से उखाड़ फेंक कर एक स्वच्छ,सुंदर समाज की रचना करें। जब हमारा समाज विकास के पथ पर अग्रसर होगा, तो हमारे राज्य और देश भी प्रगति की पथ पर और तेजी से चार चांद लगाएगा। वैसे शादियों में नहीं जाए। जीन शादियों में दहेज ली और दी गई हो, अथवा कम उम्र की बच्ची की शादी की जा रही हो। वैसे शादियों का पुरजोर विरोध करं। मंत्री ने लोगों से अपील की कि सरकार की योजनाओं से ज्यादा से ज्यादा लाभ उठाएं। भारतीय थारू कल्याण महासंघ के महाधिवेशन समारोह की सफलता को लेकर लोगों साधुवाद दिया। मौके पर खाद्य व उपभोक्ता संरक्षण आयोग की पूर्व सदस्य चंद्रकांति देवी, मंत्री प्रतिनिधि राजेश प्रसाद पटेल, मुखिया सत्येंद्र यादव, रमाकांत प्रसाद, मोहम्मद लालू, शेख लालबाबू, गो¨वद राय, तारक मंडल ,लखन बरई, उदय कुमार, जहां परवेज, मोहम्मद सलाउद्दीन विकास कुमार नित्यानंद मंडल आदि उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस