मुजफ्फरपुर, जासं। बिहार की महिला फुटबाल खिलाडिय़ों के लिए शनिवार गौरव का दिन रहा। बिहार की अंडर-17 जूनियर बालिका टीम ने गुवाहाटी में चल रही राष्ट्रीय जूनियर बालिका फुटबाल प्रतियोगिता के फाइनल में पहुंचने का पहली बार अवसर प्राप्त किया। शनिवार को खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले में बिहार ने हरियाणा को 3-1 से पराजित किया। बिहार टीम की जीत में श्रुति, साबरा एवं लक्की के एक-एक गोल का योगदान रहा। खेल के दूसरे ही मिनट पर श्रुति कुमारी ने गोल कर टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी। लेकिन यह बढ़त अधिक देर तक कायम नही रह सकी। हरियाणा की नैंसी ने पांच मिनट बाद गोल कर स्कोर 1-1 कर दिया। खेल के 15 वें मिनट पर बिहार की साबरा खातून ने गोल कर 2-1 की बढ़त दिला दी। उसके बाद हरियाणा टीम ने लगातार हमले किए, लेकिन गोल करने में सफल नहीं हो सकी। फिर बिहार की लक्की ने खेल के 76वें मिनट पर गोल कर टीम को 3-1 की बढ़त से फाइनल में पहुंचा दिया।

बिहार टीम अबतक प्रतियोगिता में अपराजित रही है। टीम ने क्वार्टर फाइनल में मणिपुर को 3-2 से पराजित किया था। इससे पहले पूल मैचों में बिहार ने मेघालय को 15-1 से, तेलंगाना को 8-3 से, दिल्ली को 5-0 से तथा मध्य प्रदेश को 2-0 से पराजित किया था। टीम के कोच असगर हुसैन ने यह जानकारी दी। फाइनल में पहुंचने पर बिहार फुटबाल संघ के सचिव मो. इम्तेयाज हुसैन, बिहार राज्य खेल प्राधिकार के महानिदेशक ने बधाई दी है।

प्रत्येक शनिवार छात्राओं को दी जाएगी शारीरिक शिक्षा

मुजफ्फरपुर। ग्रीष्मावकाश की समाप्ति के बाद आरबीबीएम कालेज में शुक्रवार को प्राचार्य प्रो.ममता रानी ने शिक्षक-शिक्षकेत्तर कर्मचारियों की बैठक बुलाई। उन्होंने सत्रारंभ में नामांकन व पठन-पाठन को सुचारु रूप से संचालित करने पर जोर दिया। कहा कि प्रत्येक शनिवार को कालेज में छात्राओं को शारीरिक शिक्षा की जानकारी दी जाएगी। छात्राओं की 75 प्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित करवाने को लेकर शिक्षकों को निर्देश दिया। कहा कि सेमिनार, कार्यशाला व अन्य शैक्षणिक गतिविधियों में तेजी लाएं। बैठक में डा.रामेश्वर राय, डा.मधु स‍िंंह, डा.रेणु बाला, डा.चित्तरंजन कुमार, डा.अफरोज, डा.अंकिता स‍िंंह , रूपम कुमारी, मंजुलश्री, विदिशा मिश्र, अंजु स‍िंंह, संजय पांडेय, प्रमोद कुमार थे।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh