सीतामढ़ी, संसू। सीतामढ़ी शहर के मधुबन इलाके में शुक्रवार को बड़े हादसे में तीन बच्चों की मौत हो गई जबकि, तीन अन्य जख्मी हो गए। बालू लदा एक ट्रक झोड़पीनुमा घर में घुसा जिससे यह हादसा हुआ। इस घर में शादी समारोह था। मधुबन मस्जिद के समीप ओवर लोडेड ट्रक सड़क किनारे स्थित इस शादी समारोह वाले घर में घुसा और पलट गया। जिसमें सभी दब गए। मधुबन गांव निवासी मो. जाकिर अंसारी के घर पर ट्रक पलटा था। उनके घर में शादी थी। पुत्र की शादी के बाद चौठारी वाले रस्म में सभी रिश्तेदार जुटे थे। मृतक बच्चों में हफ्शा बेगम (13) पिता बशीर अंसारी, पटना, आबिद अंसारी (6) पिता वहाब अंसारी वार्ड नं-16, भावदेपुर, सीतामढ़ी, शायमा खातून (6माह) पिता रिजवान अंसारी, वार्ड नं-तीन मधुबन, सीतामढ़ी शामिल हैं। भवदेपुर निवासी मो. वहाब का पुत्र आबिद मामा के घर आया हुआ था। मधुबन निवासी मो. रिजवान अंसारी की पुत्री शायमा खातून महज छह माह की थी। हफ्शा बेगम मो. जाकिर अंसारी की नतनी थी, जो पटना अपने घर से इस शादी में आई हुई थी। रिजवान जाकिर का भाई है। 

वहीं घायलों में हामिद (5) पिता वहाब अंसारी, वार्ड नं-16 भवदेपुर, सीतामढ़ी, जाकिर अंसारी (60) पिता मरहूम समीद अंसारी, वार्ड न.-तीन, मधुबन, सीतामढ़ी, मुशर्रत खातून पिता साबिर अंसारी, वार्ड-तीन मधुबन के नाम बताए गए हैं। स्थानीय लोगों और पुलिस के सहयोग से दबे हुए सभी को बाहर निकालने की कोशिश की गई। नगर थाना पुलिस और जिला प्रशासन के पदाधिकारी भी मौके पर पहुंचे। क्रेन और जेसीबी की मदद से ट्रक को हटाकर उसके नीचे दबे हुए लोगों को निकाला गया। सीतामढ़ी शहर होकर बालू लदा ट्रक गौशाला की तरफ जा रहा था। बताया जा रहा है कि हादसे के वक्त घर में आधा दर्जन लोग मौजूद थे। हादसा इतना भीषण और दर्दनाक रहा कि घर के अंदर वाले लोगों को बाहर निकलने का मौका नहीं मिला। दो जेसीबी व क्रेन की मदद से ट्रक को खड़ा किया गया। घायलों को गंभीर हालत में सीतामढ़ी सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। घटना की सूचना के साथ ही सदर एसडीएम राकेश कुमार, हेडक्वार्टर डीएसपी पीएन साहू, डुमरा अंचलाधिकारी, पुनौरा थाना भारी पुलिस बल के साथ पहुंचे। ओवरलोडेड ट्रक के चलते यह हादसा होने से लोगों का गुस्सा सातवें आसमान पर जा पहुंचा। पुलिस व प्रशासन को लोगों का आक्रोश झेलना पड़ा।

 

Edited By: Ajit Kumar