दरभंगा, जेएनएन। बिहार बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा 2020 (Bihar B.Ed Joint Entrance Examination 2020) की तैयारी पूरी कर ली गई है। 22 सितंबर को सूबे के दस शहरों के 278 केंद्रों पर परीक्षा होगी। इसके तहत पटना में 84, दरभंगा में 36, गया में 19, भागलपुर में 26, मुजफ्फरपुर में 30, आरा में 17, छपरा में 10, मधेपुरा में 24, मुंगेर में 10, पूर्णिया में 22 केंद्र बनाए गए हैं। केंद्रों पर कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन होगा। बीएड के राज्य के नोडल पदाधिकारी प्रो. अजीत कुमार सिंह ने कहा कि उक्त परीक्षा मानव संसाधन विकास मंत्रालय और यूजीसी की ओर से जारी कोविड-19 की गाइडलाइन के मुताबिक आयोजित होगी। केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा रहेगी। हर केंद्र पर पुलिस बल, स्टेटिक मजिस्ट्रेट सह प्रेक्षक होंगे। उडऩदस्ता दल अपने दायित्व का निर्वहन करेंगे। 

सुबह 11 से एक बजे तक होगी परीक्षा

सुबह 11 बजे से एक बजे तक परीक्षा होगी। परीक्षार्थियों का प्रवेश सुबह नौ बजे से होगा। प्रवेश द्वार पर परीक्षार्थियों, पदाधिकारियों, कर्मचारियों, पुलिस बल की थर्मल स्क्रीनिंग होगी। मानक से अधिक तापमान वाले परीक्षार्थियों के लिए परीक्षा की विशेष व्यवस्था होगी। परीक्षार्थियों को साथ में सैनिटाइजर, मास्क पहन कर आना है। वीक्षकों, कर्मचारियों को भी मास्क और ग्लव्स पहनकर कार्यों का निष्पादन करना है। 

1,22,331 परीक्षार्थी लेंगे भाग 

सूबे के विभिन्न जिलों से 1,22,331 परीक्षार्थी परीक्षा में भाग लेंगे। परिणाम 30 सितंबर को जारी होगा। 3 अक्टूबर से 23 अक्टूबर तक ऑनलाइन काउंसलिंग, सात से 18 दिसंबर तक स्पॉट काउंसलिंग द्वारा मेधा और आरक्षण के आधार पर नामांकन के लिए कॉलेज आवंटित होंगे।  विश्वविद्यालयों के नोडल पदाधिकारियों की देखरेख में चयनित अभ्यर्थियों के प्रमाण पत्रों का सत्यापन के बाद नामांकन के लिए बीएड कॉलेज के नाम जारी होंगे। सभी प्रक्रियाएं राज्य नोडल पदाधिकारी द्वारा व्यवस्थित डैश बोर्ड पर अद्यतन आंकड़ों के साथ उपलब्ध रहेगा। नामांकन की प्रक्रिया 18 दिसंबर तक पूरी करने की संभावना है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस