मुजफ्फरपुर। प्रदूषण की विषम स्थिति को लेकर जिला बार एसोसिएशन भी बेहद चिंतित है। इसको लेकर एसोसिएशन की ओर से उच्च न्यायालय में जनहित याचिका दायर की जाएगी। अगर इससे पहले कोई जनहित याचिका दाखिल होगी तो उसमें एसोसिएशन इसमें इंटरवेनर बनेगा। मंगलवार को जिला बार एसोसिएशन की कार्यकारिणी की बैठक में यह प्रस्ताव पारित किया गया। बार लाइब्रेरी कक्ष में आयोजित बैठक की अध्यक्षता एसोसिएशन के अध्यक्ष नवल किशोर प्रसाद सिन्हा ने की। संचालन महासचिव प्रवीण कुमार ने किया।

वर्षो से बंद पड़े चैंबरों की जांच के लिए तीन सदस्यीय कमेटी : बैठक में एसडीओ कोर्ट के निकट स्थित वकालतखाना भवन के नवनिर्माण को लेकर 27 नवंबर के पत्र को स्वीकृति दी गई। पूर्व से आवंटित वर्षो से बंद पड़े चैंबरों की जांच के लिए चंद्रिका प्रसाद ठाकुर के नेतृत्व में तीन सदस्यीय कमेटी गठित की गई है।

बदले जाएंगे खराब वाटर प्यूरीफायर : बैठक में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित कर खराब वाटर प्यूरीफायर को बदलने का निर्णय लिया गया। इससे पहले इसकी मरम्मत कराने का प्रयास किया जाएगा। इसके लिए भी तीन सदस्यीय कमेटी गठित की गई। संयुक्त सचिव सुशील कुमार सिंह के नेतृत्व में इस कमेटी में सहायक सचिव आनंद कुमार व सदस्य भारत भूषण शामिल हैं। मेडिक्लेम से संबंधित आए आवेदनों को निष्पादित किया गया।

ये थे उपस्थित : बैठक में उपाध्यक्ष सुनीता कुमारी, अंजू रानी, विभूतिनाथ झा, अरुण कुमार सिंह, सुशील कुमार सिंह, राजू शुक्ला, सुनील कुमार श्रीवास्तव, चंद्रिका प्रसाद ठाकुर, भरत शर्मा, परमेश्वर सिंह खालसा, अजीत कुमार वर्मा, भारत भूषण, लवली कुमारी, प्रवीण कुमार, दीपक कुमार व मनोज कुमार गुप्ता उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप