मुजफ्फरपुर। इंटरमीडिएट परीक्षा परिणामों में बड़े पैमाने पर धांधली की शिकायतों को लेकर विद्यार्थियों व छात्रसंगठनों में काफी आक्रोश है। उन्होंने आंदोलन की राह अख्तियार कर ली है। जिला राजद रविवार को इसके खिलाफ आक्रोश मार्च निकालकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पुतला फूंकने का कार्यक्रम तय किया है। हम के विवि संयोजक संकेत मिश्रा ने कहा कि मैट्रिक व इंटरमीडिएट की परीक्षा बिहार विद्यालय परीक्षा समिति से नहीं संभल रही है तो विश्वविद्यालय में ऑनलाइन नामांकन कैसे संभाल पाएगी।

अजब-गजब शिकायतें सामने आ रही हैं। कुछ परीक्षार्थियों के प्रायोगिक परीक्षा के मा‌र्क्स अंकपत्र में नहीं जुड़ पाए हैं तो कहीं खराब अंक दिए जाने की शिकायतें हैं। एसआरएपी कॉलेज, बारा चकिया के साइंस के छात्र संदीप राज की शिकायत है कि उसे भौतिकी के थ्योरी पेपर में पूर्णाक से अधिक अंक मिले हैं। किसी का रोल नंबर ही गलत है, तो किसी का बिन परीक्षा दिए विषय भी मा‌र्क्सशीट में अंकित है। कुछ छात्र तो ऐसे हैं कि हर विषय में उपस्थित होने के बाद भी कुछ में अब्सेंट कर दिए गए हैं। परीक्षा परिणाम की स्थिति यह है कि जो लोग प्रथम श्रेणी से पास होने का दावा कर रहे थे, परिणाम आने पर वे भी फेल हैं। राजद जिलाध्यक्ष अमरेंद्र कुमार ने कहा है कि बड़े पैमाने पर धांधली हुई है। छात्रों के साथ धोखा हुआ है और बिहार की छवि धूमिल करने का प्रयास किया गया है। इसके खिलाफ जूरन छपरा से सरैयागंज टावर होते हुए आक्रोश मार्च निकाला जाएगा। अगर इस पर विचार नहीं किया गया तो उग्र प्रदर्शन होगा।

-----------

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस