मुजफ्फरपुर, जासं। जिले में स्कूली छात्र-छात्राओं और विभिन्न कालेजों के विद्यार्थियों के बीच नशीली दवाओं के सेवन और उसके दुरूपयोग को रोकने को लेकर रविवार को जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। जन शिक्षा विभाग के निदेशक सह विशेष सचिव सतीश चंद्र झा ने इसको लेकर सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया है। कहा है कि नई ऊर्जा और जोश के साथ आगे बढ़ने के प्रयास में युवा नशीली दवाओं का धड़ल्ले से सेवन कर रहे हैं। इन दवाओं के सेवन, बिक्री और आपूर्ति पर रोक लगाने को लेकर जिले में अभियान चलाएं। 26 जून से इसकी शुरूआत करें। सेमिनार, रैली, नुक्कड़ नाटक और ई.शपथ के माध्यम से छात्र-छात्राओं के बीच जागरूकता पैदा करें। उन्हें बताएं कि इसके सेवन से स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के डायरेक्टर जनरल सत्यनारायण प्रधान ने इसको लेकर कार्ययोजना तैयार की है। इसे सभी राज्यों को भेजा गया है। कहा है कि नशीली दवाओं के दुरुपयोग और अवैध तस्करी के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय दिवस को विश्व ड्रग दिवस के रूप में मनाया जा रहा है।

कानून प्रवर्तन एजेंसियों व अन्य हितकारकों को दी जिम्मेदारी

कानून प्रवर्तन एजेंसियों और अन्य हितकारकों को देशभर में युवाओं को नशीली दवाओं के सेवन और उससे दुष्प्रभाव के बारे में बताने और जागरूक करने का जिम्मा सौंपा गया है। ब्यूरो ने कहा है कि वर्तमान परिदृश्य में अधिक ऊर्जा और आगे बढ़ने के होड़ में युवा नशीली दवाओं का धड़ल्ले से प्रयोग कर रहे हैं। दवा दुकानदारों को भी निर्देश है कि बिना चिकित्सकीय परामर्श के इन दवाओं की बिक्री और आपूर्ति नहीं करना है। इसके बाद भी बिना चिकित्सकीय परामर्श के दवाओं की बिक्री और आपूर्ति की जा रही है।

संगठन की मजबूती का लिया फैसला

साहेबगंज। प्रखंड के नागामठ हलीमपुर परिसर में कार्यकारी प्रखंड अध्यक्ष शंभू प्रसाद गुप्ता की अध्यक्षता में जदयू की बैठक हुई। इसमें संगठन को मजबूत करने का प्रस्ताव पारित कर गांव-गांव घूमकर लोगों को जदयू की सदस्यता दिलाने का संकल्प लिया गया। मौके पर प्रदेश खाद्य सुरक्षा आयोग के पूर्व सदस्य रामनरेश मालाकार, उमेश दास, आस मोहम्मद खा, सुशील कुमार सिंह, ब्रजमोहन पटेल, शंभू कुशवाहा, रामएकबाल पटेल, डा.अजय मालाकार, शिवनाथ साह थे।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh