मुजफ्फरपुर, जेएनएन। कांग्रेस नेत्री व दिल्ली की पूर्व विधायक अलका लांबा, कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी और राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी के खिलाफ मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी (सीजेएम) मुकेश कुमार के कोर्ट में बुधवार को परिवाद दायर किया गया। यह परिवाद भाजपा के विधि प्रकोष्ठ के जिला संयोजक व अधिवक्ता अनिल सिंह ने दाखिल किया है। सीजेएम ने परिवाद को सुनवाई पर रखा है।

मोदी और योगी पर अपमानजनक टिप्पणी का आरोप

परिवाद में कहा गया है कि 25 मई को अलका लांबा ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रति बेहद अपमानजनक बातें कही थीं। अलका लांबा दिल्ली के चांदनी चौक विधानसभा से विधायक रह चुकी हैं। ऐसे में देश के पीएम व यूपी के सीएम के प्रति इस तरह का ट्वीट बेहद अपमानजनक है। इससे देश-विदेश में गलत संदेश जा रहा। इससे देश के लोगों की भावना को ठेस पहुंची है। 

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस