समस्तीपुर, जासं। जिले के विभिन्न थाना में जब्त सैकड़ों वाहन खुले आसमान के नीचे बर्बाद हो रहे हैं। इसमें अधिकांश वाहन बीते पांच वर्षों में शराब के साथ जब्त गए हैं। इसके अलावे सैकड़ों ऐसे वाहन हैं, जो किसी दुर्घटना व सड़क दुर्घटना में जब्त किए गए हों, मालिक के इंतजार में अब कबाड़ के लायक भी नहीं रह गया है। वैसे लावारिस वाहनों को एक निश्चित समय-सीमा के बाद नीलाम करने का प्रावधान है। कुछ लोग तो न्यायालय के आदेश से अपना वाहन ले जाते हैं, लेकिन बेनामी और लावारिस वाहन जंग खाने के लिए खड़े रहते हैं। सूबे में लागू शराबबंदी कानून के बाद थानों में जब्त वाहनों की संख्या लगातार बढ़ रही है। कई थाने तो ऐसे हैं जहां इन वाहनों को रखने तक की व्यवस्था नहीं है।

ऐसे में इन्हें बिना शेड के रखना मजबूरी है। लिहाजा ऐसे वाहन पूरी तरह से असुरक्षित होते हैं। जिले में अप्रैल 2016 में पूर्ण शराबबंदी के बाद उत्पाद विभाग तथा पुलिस के द्वारा शराब तस्करों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में अंग्रेजी शराब के साथ भारी मात्रा में वाहनों को जब्त करने की कार्रवाई की गई। हर वर्ष सैकड़ों की संख्या में शराब के साथ वाहन जब्त किए गए। जब्त वाहनों में बाइक की संख्या अधिक है। इसके अलावे ट्रक, मालवाहन और दर्जनों लग्जरी वाहन हैं। जिला प्रशासन की ओर से मद्य निषेघ कानून का उल्लंधन करने के मामले में जब्त वाहनों को समय समय पर नीलाम किया जाता है। इसके लिए लंबी प्रकिया है, तबतक जब्त वाहनों में खुले आसमान के नीचे जंग लगकर बेकार हो जाते हैं। कानूनी जटिलता की वजह से शराब के साथ जब्त सैकड़ों वाहन कबाड़ हो चुके हैं। इस कारण नीलामी के समय खरीदार रूचि नहीं दिखाते।

शराब के साथ पकड़े गए 1030 वाहनों का भेजा गया प्रस्ताव

जिले में उत्पाद विभाग एवं पुलिस के द्वारा शराबबंदी के बाद की गई छापेमारी में अबतक 1204 वाहन जब्त किए गए। इसमें दर्जनों लग्जरी गाडिय़ां और ट्रक हैं। इसके अलावे भारी संख्या में बाइक व मालवाहन को भी शराब के साथ जब्त किया गया है। उत्पाद विभाग ने जब्त 174 वाहनों की बोली लगाकर नीलाम किया। वहीं 1030 वाहनों के लिए प्रस्ताव भेजा गया है, जो उच्च न्यायालय और दरभंगा प्रमंडलीय आयुक्त के विचाराधीन है। वहीं जब्त 269 वाहनों के मूल्य निर्धारण का प्रस्ताव जिला परिवहन पदाधिकारी को भेजा गया है। जिला परिवहन पदाधिकारी ने बताया कि 164 वाहनों का स्वामित्व परिवर्तन किया गया है।

शराबबंदी कानून लागू होने के बाद जिले में अप्रैल 2016 से दिसंबर 2021 तक की कार्रवाई

प्राथमिकी : 4854

गिरफ्तार : 5193

जब्त शराब : 708906.264 लीटर

जब्त वाहन : 1203

वाहनों की नीलामी : 192

Edited By: Dharmendra Kumar Singh