मुजफ्फरपुर, जासं। सदर अस्पताल में आधा दर्जन युवकों ने जमकर हंगामा किया। अवैध हथियार से लैस युवक लैब टेक्नीशियन से गाली-गलौज व मारपीट करने की धमकी दे रहे थे। इसकी शिकायत मिलने के बाद सिविल सर्जन ने सुुरक्षा बल को भेजकर मामले को शांत कराया। इसके साथ ही वहां पर शाम की पाली में हथियारबंद सुरक्षा प्रहरी को लगाया गया है। सुरक्षा प्रहरी को निर्देश दिया गया है कि परिसर में कोई भी असामाजिक तत्व शाम में दिखाई दे तो उसके साथ सख्ती की जाए। उसको गिरफ्तार कर पुलिस के हवाले किया जाए।

इस तरह से चला घटनाक्रम

सदर अस्पताल में सिटी स्कैन सेंटर 24 घंटे सेवा दे रहा है। इस सेंटर पर रविवार की देर शाम करीब आधा दर्जन युवक सिटी स्कैन के नजदीक आए। सभी लोग नशे में थे। वहां आने के बाद हंगामा शुरू कर दिया। सभी चाकू व अन्य अवैध हथियार से लैस थे। वहां पर टेक्नीशियन भय से दुबके रहे। इसकी जानकारी सिटी स्कैन संचालक को दी। उसके बाद उसने सीएस, डीपीएम, डीएस सहित अन्य वरीय अधिकारी को जानकारी दी। सिविल सर्जन ने त्वरित हस्तक्षेप करते हुए सुरक्षा प्रहरी को वहां पर भेजा। परिसर में रहने वाले कुछ स्वास्थ्यकर्मी व वहां पर काम करने वाले संवेदक ने आकर हालत को नियंत्रण किया। सुरक्षा बल के आने के बाद युवक वहां से सरक लिए। घटना के बाद सोमवार को उपाधीक्षक ने अपने कक्ष में टेक्नीशियन को बुलाकर सारी जानकारी ली। जो जानकारी सामने आई उसमें यह पता चला कि कुछ परिसर के युवक हैं जो इस तरह के काम वहां करते हैं। पिछले दिनों सिटी स्कैन से मोबाइल की चोरी भी हुई है। वहां पर सीसी टीवी लगा हुआ है।

- हंगामा की जानकारी मिली है। वहां पर तत्काल सुरक्षा प्रहरी को लगा दिया गया है। उपाधीक्षक से पूरी रिपोर्ट मांगी गई है। इसमें शामिल लोगों की पहचान कर उनके खिलाफ नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई जाएगी। परिसर में किसी भी असामाजिक तत्वों की गतिविधि नहीं चलने दी जाएगी। -डा.विनय कुमार शर्मा

सिविल सर्जन