मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

मधुबनी, जेएनएन। जिले के पंडौल थाना क्षेत्र के सरिसव पाही में दैनिक जागरण से जुड़े पंडौल के पत्रकार प्रदीप मंडल पर जानलेवा हमले के दोनों बाइक सवार आरोपितों सरिसव पाही निवासी अशोक कामत व सुशील साह की गिरफ्तारी को पुलिस प्रशासन ने चुनौती के रूप में ले रखा है। इन दोनों के खिलाफ पुलिस ने गिरफ्तारी वारंट पहले ही प्राप्त कर लिया है। अगर 24 घंटे के अंदर आरोपित अशोक कामत व सुशील साह की गिरफ्तारी संभव नहीं हुई या फिर इन दोनों के द्वारा आत्मसमर्पण नहीं किया गया तो पुलिस कुर्की की कार्रवाई
करेगी। कुर्की की कार्रवाई से पूर्व पुलिस आज गुरुवार 01 अगस्त को दोनों आरोपितों के घर इश्तेहार चिपका देगी। इसकी पुष्टि सदर एएसपी कामिनी बाला ने की है। बुधवार को सदर एएसपी कामिनी बाला के नेतृत्व में पुलिस टीम आरोपितों के घर पहुंचकर चल-अचल संपत्ति का जानकारी जुटाने की कार्रवाई की ताकि आरोपितों की गिरफ्तारी या आत्मसमर्पण नहीं करने की स्थिति में चल-अचल संपत्ति अटैच करने के लिए अविलंब कुर्की की कार्रवाई की जा सके।
इसकी पुष्टि एसपी डॉ. सत्य प्रकाश ने की है। पुलिस अधीक्षक डॉ. सत्य प्रकाश एवं सदर एएसपी कामिनी बाला ने यह भी बताया कि आरोपित अशेाक कामत एवं सुशील साह के शीघ्र गिरफ्तार नहीं होने या आत्मसमर्पण नहीं करने की स्थिति में इन दोनों अभियुक्तों को छुपाने, बचाने एवं संरक्षण देने के आरोप में इन दोनों के माता-पिता एवं संरक्षण देने, छुपाने एवं बचाने में संलिप्त अंन्य लोगों को भी इस मुकदमा में अभियुक्त बनाते हुए गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा। एसपी ने बताया कि बुधवार को इस कांड का सुपरवीजन हेतु
सदर एसडीपीओ घटनास्थल का भी मुआयना किया है।
उल्लेखनीय है कि बीते 28 जुलाई की रात प्रदीप मंडल पर बाइक सवार दो अपराधियों ने सरिसव पाही में उस वक्त गोली चलाकर जानलेवा हमला कर दिया, जब वे अपने घर हाटी वापस लौट रहे थे। इस घटना में पेट में गोली लगने से प्रदीप मंडल गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे। डीएमसीएच में उनका ऑपरेशन किया
गया। हालांकि ऑपरेशन के बाद भी गोली नहीं निकाला जा सका है। लेकिन अब वे खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं। फिलहाल पत्रकार डीएमसीएच के आइसीयू वार्ड में ही भर्ती हैं। पत्रकार प्रदीप मंडल पर जानलेवा
हमले के बाद एसपी ने उनके घर पर परिजनों की सुरक्षा हेतु दो सिपाही एवं एक चौकीदार को प्रतिनियुक्त कर दिया है। डीआइजी के निर्देश पर दरभंगा के एसएसपी ने भी डीएमसीएच में इलाजरत जख्मी पत्रकार प्रदीप मंडल की सुरक्षा हेतु सिपाही को प्रतिनियुक्त कर दिया है। पुलिस अधीक्षक डा. सत्य प्रकाश
ने पत्रकार प्रदीप मंडल पर जानलेवा हमला करने वाले दो आरोपितों जिसे पूर्व के मुकदमों में न्यायालय से जमानत मिल चुकी है, उस जमानत को रद कराने के लिए कार्रवाई करने, स्पीडी ट्रायल चलाकर सजा दिलाने का निर्णय ले चुके हैं। पुलिस के मुताबिक उक्त अपराधी पहले भी शराब, लूट कांड में जेल जा चुका है। वहीं दूसरी ओर वरीय पुलिस अधिकारी ने यह भी संकेत दिया है कि गुरुवार को पूर्व मुखिया सत्य नारायण यादव हत्याकांड का भी खुलासा पुलिस द्वारा किया जा सकता है। इस हत्याकांड के उद्भेदन के कगार पर पुलिस
पहुंच चुकी है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ajit Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप