मुजफ्फरपुर, जागरण संवाददाता। मुजफ्फरपुर के मोतीपुर के कथैया थाने के ठीकहा बाजार में आपसी विवाद को लेकर अमित कुमार (18) नाम के युवक को गर्दन में गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्या करने के बाद आरोपित विशाल कुमार (25) दो कट्टा व एक खोखा के साथ थाना पहुंचा और पुलिस के समक्ष सरेंडर कर दिया। उसने पुलिस के सामने हत्या की बात स्वीकार कर लिया है। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक, गुरुवार की शाम अमित कुमार ठीकहा बाजार पर एक दोस्त के साथ नाश्ता करने आया था। इसी बीच शाम करीब 4.45 बजे गांव का ही विशाल कुमार होटल पर पहुंच गया। देखते ही देखते उसने पीछे से अमित की गर्दन पर गोली मार दी। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। लोग जब तक जुटते आरोपित उधर से गुजर रहे एक व्यक्ति को रोककर उसकी बाइक पर बैठ गया और थाने पहुंचकर दो कट्टा व एक खोखा के साथ सरेंडर कर दिया।

तीन दिन पहले दरवाजे पर चढ़ कट्टा लहराते हुए दी थी धमकी 

मृतक के पिता बिंदेश्वर पंडित ने बताया कि तीन दिन पूर्व विशाल ने उसके छोटे पुत्र को धमकी दी थी। तब वे पूछताछ के लिए उसके घर गए यहां गए थे। इसके बाद विशाल कट्टा लहराते हुए दरवाजे पर चढ़ आया और अभद्र भाषा का प्रयोग करने ला। इस संबंध में उन्होंने 29 नवंबर को थाने में इसकी शिकायत की थी। कट्टा लहराते उसका वीडियो भी पुलिस को सौंपा था, लेकिन कार्रवाई तो दूर पुलिस ने जांच करना भी मुनासिब नहीं समझा। स्वजन का कहना था कि कि कथैया पुलिस अगर शिकायत पर कार्रवाई करती तो शायद अमित की हत्या नहीं होती।

आवेदन पर कार्रवाई नहीं किए जाने की होगी जांच 

पुलिस उपाधीक्षक पश्चिमी अभिषेक आनंद ने बताया कि उन्हें जानकारी मिली है कि कट्टा लहराकर धमकी देने का विशाल पर आरोप लगाते हुए थाना में आवेदन दिया गया था। इस आवेदन पर कार्रवाई नहीं हाेने की जांच कराई जाएगी। जांच के बाद इसके लिए दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। आरोपित विशाल को गिरफ्तार कर लिया गया है। उससे पूछताछ की जा रही है। उससे पता लगाया जा रहा है कि उसे कट्टा किसने दिया। यह भी पता लगाया जा रहा है कि घटना के पीछे और कौन-कौन शामिल थे।

बहन को विदा करने से पहले दुनिया छोड़ गया भाई 

अमित की बहन की तीन दिसंबर को शादी होनी है। इसको लेकर घर पर खुशियों का माहौल था। कुछ रिश्तेदार भी आ गए थे। वहीं, शाम में अमित की हत्या के बाद घर में शादी का माहौल मातम में बदल गया। घटना की जानकारी मिलते ही स्वजन में कोहराम मच गया।

घटना के विरोध में सड़क जाम

दूसरी तरफ गुरुवार की शाम लगभग 4.45 बजे की घटना के विरोध में ग्रामीणों ने घटनास्थल के पास शव के साथ मोतीपुर-सरैया पथ को शाम पांच बजे से लेकर रात नौ बजे तक जाम कर दिया। सड़क पर टायर जलाकर प्रदर्शन किया। वे पुलिस के वरीय पदाधिकारी को घटनास्थल पर बुलाने की मांग कर रहे थे। सूचना पर पहुंची कथैया, मोतीपुर व बरूराज पुलिस को भी लोगों के आक्रोश का भी सामना करना पड़ा। मौके पर पहुंची कथैया, बरूराज व मोतीपुर पुलिस को लोगों के भारी विरोध का भी सामना करना पड़ा।

पुलिस ने किया लाठीचार्ज

लोगों का आरोप था कि कथैया पुलिस की लापरवाही से घटना हुई है। बाद में पुलिस ने लाठी चार्ज कर लोगों को खदेड़ दिया और शव को पोस्टमार्टम के लिए श्रीकृष्ण चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल भेजा। प्रभारी थानाध्यक्ष सीके मंडल ने बताया कि गिरफ्तार आरोपित का पहले से ही आचरण संदिग्ध रहा है। घटना के पीछे प्रेम संबंध की भी बात सामने आ रही है। पुलिस सभी बिंदुओं पर जांच की जा रही है।

Edited By: Aditi Choudhary

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट