पश्चिम चंपारण, जासं। पुलिस जिले के चौतरवा थाना क्षेत्र के मठिया रेता में गुरुवार की सुबह एक साधू ने घास काट रही महिला के साथ दुष्कर्म की कोशिश की। जब असफल रहा तो महिला की दो बेटियों के सामने ही साधू ने अपनी कुल्हाड़ी से गला काटकर हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपित मौके से फरार हो गया। उधर, बच्चियों के शोर मचाने पर मौके पर लोगों की भीड़ जुट गई। लोगों ने चौतरवा व नदी थाने की पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया।बगहा एसडीपीओ कैलाश प्रसाद ने बताया कि हत्या के बाद फरार साधू मोतीलाल यादव की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम का गठन कर छापेमारी की जा रही है।

घटना के संबंध में बताया जाता है कि गुरुवार की सुबह चौतरवा थाने के लक्ष्मीपुर पतिलार निवासी बेचु यादव की 40 वर्षीय पत्नी तारा देवी अपने दो बच्चियों रूपा कुमारी 15 वर्ष व पूजा कुमारी 13 वर्ष के साथ घास काटने के लिए गई थी। उसी गांव का मोतीलाल यादव मौके पर पहुंचा और गन्ने के खेत में घास काट रही महिला के साथ दुष्कर्म की कोशिश करने लगा। महिला ने विरोध किया व शोर मचाया तो मां की आवाज सुन उसकी दोनों बेटियां दौड़कर मौके पर पहुंची। लेकिन, तबतक मोतीलाल ने तारा देवी पर कुल्हाड़ी से हमला कर मौत के घाट उतार दिया। हमले के दौरान महिला ने खुद को बचाने की कोशिश की।

इस दौरान उसके दोनों हाथों पर भी जख्म उभर आए। आरोपित का उग्र रूप देख दोनों बच्चियां डर कर भाग खड़ी हुईं और इसकी जानकारी आस-पास के लोगों को दी। मृतका को तीन पुत्रियां व दो पुत्र हैं। घटना के बाद मृतका के घर लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। इधर, चौतरवा थानाध्यक्ष शंभु शरण गुप्ता ने बताया कि मृतक के स्वजनों के बयान के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की जा रही है।