मुजफ्फरपुर, ऑनलाइन डेस्‍क। तीन दिन के बच्‍चे ने आठवीं कक्षा पास कर ली! यह सुनकर आप सभी सोच में पड़ गए होंगे, क‍ि आखिर जन्‍म लेते कोई बच्‍चा आठवीं कैसे पास कर गया। ये अजीबो-गरीब मामला मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) के मीनापुर स्थित एक माध्‍यमिक विद्यालय का है, जिसे सुनकर हर कोई हैरान है। विद्यालय द्वारा एक आठवीं के छात्र को उसकी जन्‍म तिथि‍ के तीन दिन बाद का ही आठवीं पास का टीसी (Transfer Certificate) दे दिया गया। मामला सामने आने के बाद से सभी के होश उड़ गए ।

 यह भी पढ़ें : Darbhanga Crime: ससुर अपनी पताेहू काेे पाने के ल‍िए हुआ 'पागल', विरोध करने पर बेटे का न‍िकाल द‍िया कचूमर

यह है पूरा मामला

दरअसल, मीनापुर के गोसाईदास टेंगरारी विद्यालय (Gosaidas Tangrari Vidyalaya) ने आठवीं के छात्र प्रिंस कुमार की टीसी जारी की, इसमें प्र‍िंंस का जन्‍म तिथ‍ि यानी 20 मार्च 2007 बताई गई है , जबक‍ि विद्यालय ने उसे 23 मार्च 2007 के डेट का आठवीं पास का टीसी दे दिया है । वहीं , स्‍कूल की इतनी बड़ी गलती देख जब प्रिंस के अभ‍िभावक विद्यालय में टीसी में सुधार करवाने के लिए गए तो वहां की हेड मास्‍टर ने उन्‍हें डांट कर भगा दिया और की गई गलती को भी सुधारने से मना कर दिया। 

 यह भी पढ़ें : Bihar B.Ed CET 2021: बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन कल से

नौवीं में एडमिशन को लेकर चिंता

 स्‍कूल की इस गलती को देख बच्‍चे के परिजन समेत हर कोई हैरान परेशान है। स्‍कूल की लापरवाही को लेकर कई तरह के सवाल खड़ हो रहे हैं, बच्‍चे के भविष्‍य पर खतरा मंडराने लगा है। ऐसे में यह बड़ा सवाल है क‍ि बच्‍चे का नामांकन जन्‍म के तीन दिन बाद आठवीं पास के टीसी के आधार पर नौवीं कक्षा में के किसी स्‍कूल में होगा! वहीं विद्यालय की ओर से छात्र के परिजनों के साथ हुए व्‍यवहार ने प्रशासन पर सवाल खड़े कर दिए हैं। 

लापरवाही नहीं, स्लिप ऑफ पेन!

इस मामले को लेकर जिला शिक्षा अधिकारी ने इसे लापरवाही नहीं, बल्कि स्लिप ऑफ पेन बताया है। कहा क‍ि इस गलती का सुधार किया जाएगा। 

यह भी पढ़ें : Amazing Incident : जिस वृद्धा के 'शव' के पास बेटे-बहू कर रहे थे चीत्‍कार, वह चलते हुए वहीं आ गई, जानें पूरा 'चमत्कार'

 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021