मुजफ्फरपुर । असहिष्णुता के मुद्दे पर विवादित बयान देने के मामले में फिल्म अभिनेता आमिर खान और उनकी पत्नी किरण राव के विरुद्ध सदर थाना में एफआइआर दर्ज की गई है। परिवाद में उन पर देश को बदनाम करने तथा देशद्रोह का आरोप भी लगाया गया था।

अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी (एसीजेएम) रामचन्द्र प्रसाद ने अधिवक्ता सुधीर कुमार ओझा के परिवाद पत्र की सुनवाई के बाद एक दिसंबर को एफआइआर दर्ज कर जांच का आदेश सदर थानाध्यक्ष को दिया था।

अधिवक्ता सुधीर कुमार ओझा ने 25 नवंबर को मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी (सीजेएम) की कोर्ट में परिवाद दायर किया था। इसमें उन्होंने कहा था कि 24 नवंबर को वे अपने आवास सदर थाना के लहलादपुर पताही गांव में थे। उस दिन टीवी चैनलों व अन्य समाचार माध्यमों से आमिर खान का बयान सामने आया।

इस बयान में उन्होंने कहा था कि देश में असहिष्णुता है और मेरी पत्नी भारत में सुरक्षित नहीं हैं। वह भारत छोडऩा चाहती हैं। उन्हें अपने बच्चों की चिंता है। आसपास के माहौल से सभी डरे हुए हैं।

ओझा का कहना है कि देश के माहौल को लेकर किरण ने बहुत बड़ी और डरावनी बात कही थी। इससे देश की छवि को नुकसान हुआ है।

आरोप है कि आमिर खान व उसकी पत्नी के बयान के बाद विभिन्न प्रांतों में धार्मिक व सांस्कृतिक माहौल बिगड़ा है। इस बयान का देश के अंदर व बाहर व्यापक विरोध किया जा रहा है तथा आरोपियों की सुरक्षा तक बढ़ानी पड़ रही है।

Posted By: Kajal Kumari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस