मुजफ्फरपुर : बीआरए बिहार विश्वविद्यालय की ओर से स्नातक में नामांकन की प्रक्रिया लगभग समाप्त होने पर है। इसके बाद भी आधी से अधिक सीटें रिक्त हैं। नवसंबद्धता प्राप्त कालेजों में नामांकन के लिए पोर्टल नहीं खुलेगा और न किसी कालेज में आनस्पाट नामांकन लिया जाएगा। डीएसडब्ल्यू प्रो.अजीत कुमार ने विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन में मीडिया से बातचीत करते हुए ये जानकारी दी। उन्होंने स्पष्ट किया कि नवसंबद्धता प्राप्त और कुछ पुराने कालेजों में भी सैकड़ों की संख्या में छात्रों का आवेदन और पेपर ले लिया गया है। आनस्पाट नामांकन के नाम पर उन्हें गुमराह किया जा रहा है। कहा कि ऐसे कालेजों को चेतावनी दी जाती है कि किसी भी हाल में छात्रों का आनस्पाट नामांकन नहीं लेना है। विवि स्तर से उन्हें जिन विद्यार्थियों की सूची भेजी जाएगी उसी का नामांकन वे लेंगे।

डीएसडब्ल्यू ने बताया कि जिन छात्र-छात्राओं का अबतक नाम मेधा सूची में नहीं आया है वे 27 व 28 अक्टूबर को पोर्टल पर लागइन कर कालेज व विषयों को बदल लें। साथ ही जिन छात्रों का नाम आ गया था और वे किसी कारण नामांकन नहीं ले सके थे। वे आवंटित कालेजों में इन दो दिनों में नामांकन करा सकेंगे। इसके बाद 29 अक्टूबर को विवि नामांकन की स्थिति और एडिट किए गए आवेदनों की समीक्षा करेगा। इसके आधार पर छात्रों को रिक्त कालेजों में नाम आवंटित किया जाएगा। जहां छात्र नामांकन करा सकेंगे। इसकी सूची कालेजों को ईमेल पर भेजी जाएगी। साथ ही छात्रों को भी ईमेल और मोबाइल पर इसकी जानकारी दी जाएगी। वार्ता के दौरान यूएमआइएस कोआर्डिनेटर प्रो.ललन झा भी मौजूद रहे।

विवि में अब कालेजों की संख्या 101, 156770 सीटें निर्धारित :

विश्वविद्यालय में अब अंगीभूत, संबद्ध, नवसंबद्ध और राजकीय कालेजों को मिलाकर कुल संख्या 101 हो गई है। इसमें सीटों की संख्या 1,56,770 है। विश्वविद्यालय की ओर से तीन बार मेधा सूची जारी करने के बाद सभी कालेजों को मिलाकर 76 हजार विद्यार्थियों ने नामांकन लिया है, जबकि 80 हजार से अधिक सीटें अभी खाली हैं। तीसरी सूची करीब 25 हजार विद्यार्थियों के लिए जारी की गई। इसमें 6400 विद्यार्थियों ने ही नामांकन कराया।

छठ के बाद शुरू की जाएंगी कक्षाएं : स्नातक सत्र 2021-24 में नामांकन की प्रक्रिया दीपावली तक पूरी हो जाएगी। इसके बाद करीब एक सप्ताह तक कालेज व विवि में अवकाश रहेगा। कालेज व विवि खुलने के पर छठ के बाद कक्षाओं का संचालन शुरू किया जाएगा।

Edited By: Jagran