मुजफ्फरपुर। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) मीनापुर के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डा. राकेश कुमार के नेतृत्व में अवैध नर्सिंग होम की जांच के लिए गठित दो टीम में शमिल डा. शशि शंकर, डा. महेंद्र कुमार, डा. आसिफ इकबाल, डा. अल्कामा इकबाल, रोशन कुमार झा,बीएमई सहित मीनापुर व सिवाइपट्टी थाना के सहयोग से मीनापुर तुर्की बाजार एवं घोसौत पंचायत अंतर्गत नर्सिंग होम्स की सघन जांच की गई। सभी नर्सिंग होम को कागजात उपलब्ध कराने के लिए 48 घंटे का समय दिया गया है। उन्हें चेतावनी दी गई है कि यदि 48 घंटे में कागजात कार्यालय को उपलब्ध नहीं कराया जाते हैं तो उस नर्सिंग होम को अवैध घोषित करते हुए कानूनी कार्रवाई की जाएगी। जांच के दौरान टीम को कहीं-कहीं प्रतिरोध का भी सामना करना पड़ा।

सुरक्षा नर्सिंग होम तुर्की बाजार, डा. सीतेश कुमार, तुर्की बाजार, सुधांशु क्लिनिक कोदई चौक और घोसौत में टीम के साथ वहां मौजूद लोगों ने बहस करनी शुरू कर दी। फिर पुलिस ने हस्तक्षेप कर वहां मौजूद कर्मी से कमरों को खुलवाया गया। मां विंध्यवासिनी सेवा सदन बनघारा बाजार में आपरेशन के पश्चात बीपी एवं हिमोग्लोबिन कम होते हुए भी मरीजों को रखकर इलाज करते हुए पाया गया। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डा. राकेश कुमार ने कहा कि सही कागजात नहीं देने वालों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Ajit kumar