सीतामढ़ी, जेएनएन। एल एंड टी फाइनेंशियल सर्विसेज लि. की स्थानीय शाखा से बुधवार देर रात लाखों रुपये समेत तिजोरी उखाड़कर चोर ले गए। हैरानी की बात यह कि वहां एक भी गार्ड नहीं था। घटना की बाबत प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। इसमें फाइनेंस कंपनी द्वारा तिजोरी में रखे 34 लाख 21 हजार 950 रुपये की चोरी की बात कही गई है। 

बताया गया कि गुरुवार सुबह जब शाखा प्रबंधक पहुंचे तो घटना का पता चला। सूचना पर एसडीपीओ (सदर) कुमार डॉ. कुमार वीर धीरेंद्र के नेतृत्व में पहुंची  पुलिस ने जायजा लिया। घटना की जांच के लिए क्यूआरटी के साथ फॉरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड को लगाया गया। लेकिन, दिनभर में कुछ पता नहीं चला। 

 फाइनेंस कंपनी के ऑपरेशन प्रबंधक सुमित रंजन के मुताबिक, कलेक्शन के कुल 34 लाख 21 हजार 950 रुपये तिजोरी में रखे थे। बैंक बंद रहने के कारण उक्त रुपये जमा नहीं हो सका था। बुधवार शाम गिनती के बाद रुपये को तिजोरी में रखा गया था। यहां ब्रांच मैनेजर मिथिलेश कुमार चंचल व सुमित रंजन के अलावा करीब डेढ़ दर्जन स्टाफ हैं। लेकिन, कार्यालय बंद होने के बाद यहां कोई नहीं रहता है। गार्ड की मांग के बावजूद वरीय अधिकारियों ने कोई व्यवस्था नहीं की।  तिजोरी वाले कमरे का द्वार बंद है। चोरों ने खिड़की के रास्ते कमरे में प्रवेश कर तिजोरी उखाड़ी। 

उधर, पुलिस ने कहा कि यह घटना बड़ी लापरवाही का नतीजा है। कार्यालय में इतनी बड़ी राशि की सुरक्षा के लिए न कोई इंतजाम था और न पुलिस की मदद ली गई। भवन के आगे सीसीटीवी की व्यवस्था भी नहीं है। घटना में किसी स्टाफ की भी संलिप्तता हो सकती है। सभी बिंदुओं को ध्यान में रखकर जांच की जा रही है। 

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस