मुजफ्फरपुर, ऑनलाइन डेस्क। Happy Friendship Day 2021: दोस्त और दोस्ताना। यह शब्द सुनते ही एक अजीब तरह की गर्मजोशी का अहसास होता है। आंखों में एक खास तरह की चमक आ जाती है। हालांकि हमारे समाज के अन्य रिश्तों की तरह ही इस पर भी हो रहे बदलावाेें का प्रभाव पड़ा है। यही वजह है कि आज इस रिश्ते को याद दिलाने और इसे मनाने के लिए वर्ष का एक दिन चुनने की मजबूरी आन पड़ी है। स्थिति जो भी उसको अपनों के साथ भरपूर ढंग से जीना ही शायद दोस्ती है। मुजफ्फरपुर के युवा भी अपने खास अंदाज में इसको मनाने की तैयारी को अंतिम रूप दे रहे हैं। हालांकि कोरोना संक्रमण का भय और जल जमाव ने उत्सव के आनंद को कम जरूर कर दिया है। स्कूल व कॉलेज खुलने के बाद भी उसमें उपस्थिति नहीं के बराबर रह रही है। इस हालत में युवाओं ने इसे वर्चुअली ही मनाने का फैसला किया है। शहर का एकमात्र जुब्बा सहनी पार्क अभी जलजमाव की चपेट में है। ऐसे में यहां पर हैंगआउट करने का विकल्प उन्हें सही प्रतीत नहीं हो रहा है। इस सबके बीच शहर के कुछ काउंटरों से फ्रेंडशिप बैंड व कार्ड बेचे जा रहे हैं, लेकिन इसके खरीदार बहुत कम हैं। दुकानदारों का कहना है कि इंटरनेट मीडिया का चलन बढ़ने की वजह से भी अब लोग वहीं एक-दूसरे काेे शुभकामना दे और ले लेते हैं। उसके लिए खास आयोजन करने की, मिलने-जुलने की जरूरत महसूस नहीं करते हैं। 

दीपल युवा हैं। टेक्नो सेवी हैंं। खुशी के हर मौके को सेलिब्रेट करने में विश्वास रखने वाले दीपल भी इस बार इंटरनेट मीडिया का ही सहारा लेंगे। उनका कहना है कि हम युवा होने के साथ साथ जिम्मेदार भी हैं। अभी किसी भी तरह का आयोजन करना सही नहीं है। इसलिए हम सभी दोस्तों ने जूम पर इकट्ठा होने और दोस्ती के बेहतर क्षण के बारे में अपने विचार साझा करने का फैसला इस किया है। उनके जैसे और भी युवा हैं जो इस फ्रेंडशिप डे को कोरोना एसओपी के दायरे ही मनाने जा रहे हैं।

 

Edited By: Ajit Kumar