मुजफ्फरपुर, जागरण संवाददाता। नगर थाना क्षेत्र के सिकंदरपुर स्थित बूढ़ी गंडक नदी के सीढ़ी घाट पर नहाने के क्रम में डूबे ब्रह्मपुरा बढ़ई टोला इलाके के दो किशोरों का शव करीब 40 घंटे बाद बुधवार की सुबह मिला। बताया गया कि दोनों किशोरों का शव नदी में उपला रहा था। यह देख सुबह पांच बजे स्थानीय लोगों की भीड़ लग गई। सूचना पर सिकंदरपुर ओपी की पुलिस मौके पर पहुंची। साथ ही दोनों किशोर के स्वजन भी सीढ़ी घाट पर पहुंचे। शव को देखते ही स्वजनों में चीत्कार मच गया। पुलिस व स्थानीय लोगों ने ढाढस देते हुए स्वजन को शांत कराया। इसके बाद दोनों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम में भेजा गया। 

 बता दें कि सोमवार की दोपहर ब्रह्मपुरा बढ़ई टोला इलाके के किशोर उज्ज्वल कुमार शर्मा, शमी कुमार मिश्रा व प्रणव कुमार नहाने को नदी में गए थे। इसी क्रम में तेज धारा में चले जाने के कारण सभी डूबने लगे थे। शोर मचाने पर स्थानीय गोताखोर ने प्रणव को बचा लिया। दूसरी ओर यह भी कहा जा रहा कि प्रणव को बचाने के लिए दोनों छलांग लगाए थे। मगर, ये दोनों बच नहीं पाए। सूचना पर स्थानीय पुलिस पहुंची। इसके बाद एनडीआरएफ की टीम दोनों की तलाश में जुटी रही। दो दिनों तक नदी में तलाश की जाती रही। मगर, डूबे हुए दोनों किशोर का पता नहीं चल सका था। इस बीच बुधवार की सुबह उपलाता शव मिला।

 बुधवार की दोपहर पोस्टमार्टम के बाद शव को लेकर दोनों के स्वजन घर पर पहुंचे। इसके बाद मोहल्ले में चीत्कार मच गया। दोनों के स्वजनों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया था। शमी की मां बार-बार अचेत हो रही थी। बहन की स्थिति भी बिगड़ गई थी। स्थानीय लोगों द्वारा पीडि़त स्वजनों को सांत्वना देते हुए संभाला जा रहा था। बाद में एक मोहल्ले से दोनों किशोर की अर्थी उठने के बाद पूरा इलाका गमगीन हो गया। मातम के कारण आसपास के कई घरों में चूल्हा तक नहीं जला।

Edited By: Murari Kumar