मुजफ्फरपुर। औराई थाना क्षेत्र की भलुरा पंचायत के मिश्रौलिया युगौलिया में बुधवार की शाम नए रास्ते से प्रतिमा विसर्जन जुलूस का विरोध मामले मे हुई हिंसक झड़प में पुलिस ने दोनों पक्ष के 15 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। थानाध्यक्ष राजेश कुमार ने बताया कि पुलिस बल पर पथराव व जानलेवा हमले को लेकर पुलिस ने उपद्रवियों को चिह्नित कर मामला दर्ज कर कार्रवाई आरंभ कर दी है। इस मामले मे अन्य आरोपितों की पहचान की जा रही है। वहीं गाव में एक दर्जन पुलिस बल के जवान कैंप कर नजर बनाए हुए हैं। उत्पात मचाने वाले दोनों पक्षों पर कार्रवाई की जाएगी। थानाध्यक्ष के बयान पर 15 नामजद व 50 अज्ञात पर मामला दर्ज किया गया है। बता दें कि जन्माष्टमी की प्रतिमा विसर्जन के दौरान पुलिस व अन्य लोगों पर पथराव व गाड़ी क्षतिग्रस्त करने की सूचना पर देर रात्रि एसएसपी जयंतकात पहुंचे थे। शाति बहाल होने के बाद वे सुबह लौट गए। इधर, एएसपी पूर्वी अमितेष कुमार, एसडीओ पूर्वी डॉ. कुंदन कुमार समेत अन्य अधिकारी स्थल पर पहुंचे। सामाजिक कार्यकर्ता गजनफर हुसैन, मो साकिब, मो एजाज, मो जहागीर, अली ईमाम ,कमर आलम तमन्ना आदि ने दोनों पक्षों के साथ वार्ता कर केस नहीं करने, गिरफ्तार लोगों को रिहा करने की माग करते हुए शांति बहाली में सहयोग का भरोसा दिलाया। अधिकारी इसपर विमर्श करने लगे। इसी बीच इंसाफ मंच के राज्य उपाध्यक्ष आफताब आलम ने पूरी टीम के साथ पहुंचकर पुलिस द्वारा पिटाई व लाठी चार्ज का विरोध करते हुए कहा कि प्रतिमा विसर्जन की अनुमति नहीं ली गई थी। इसपर लोगों की भीड़ जुट गई और हंगामा होने लगा और बात नहीं बनी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस