मुजफ्फरपुर, जासं। बीआरए बिहार विश्वविद्यालय की ओर से स्नातक में आन स्पाट राउंड में नामांकन की प्रक्रिया शुरू हुए पांच दिन बीत गए हैं। इस अवधि में अबतक 10,021 विद्यार्थियों ने विभिन्न कालेजों में नामांकन लिया है। यूएमआइएस कोआर्डिनेटर प्रो.टीके डे ने बताया कि स्नातक में नामांकित विद्यार्थियों की संख्या 84,347 हो गई है। पहली तीन सूची के आधार पर नामांकित 79 हजार विद्यार्थियों का रोल नंबर उनके कालेजों में भेजा जा चुका है। आठ दिसंबर तक आन स्पाट राउंड में बचे हुए सीटों पर आरक्षण रोस्टर और कोटा के सीटों समेत मेधा सूची का पालन करते हुए नामांकन लिया जाना है।

10 हजार से अधिक आवेदन 

आन स्पाट राउंड से पहले दो बार आवेदन के लिए पोर्टल खोला गया। इसमें करीब 10 हजार विद्यार्थियों ने आवेदन दिया। इससे विवि को करीब 28 लाख रुपये का फायदा हुआ है। 84,947 विद्यार्थियों के नामांकन के बाद करीब दो करोड़ 22 लाख रुपये की राशि प्राप्त हुई है। इसमें कालेजों का भी हिस्सा है। इससे पूर्व विवि की ओर से आवेदन की तिथि जारी होने के बाद 1.43 लाख विद्यार्थियों ने आवेदन दिया था।

पीजी में छह हजार विद्यार्थियों ने लिया नामांकन

पीजी में सत्र 2020-22 में करीब सात हजार सीटों के लिए नामांकन की प्रक्रिया की गई। तीन बार मेधा सूची जारी होने और बचे हुए सीटों पर विशेष नामांकन की सुविधा देने के बाद करीब छह हजार विद्यार्थियों ने नामांकन कराया है। विवि की ओर से बताया गया है कि अब मैथिली, भोजपुरी, बांग्ला, परसियन, उर्दू, दर्शनशास्त्र और बाटनी जैसे विषयों में ही सीटें बची हैं। अन्य विषयों में सीटें भर गई हैं।

10.25 बजे तक विद्यालय में लटका रहा ताला

साहेबगंज । प्रखंड के अहियापुर स्थित राजकीय मध्य विद्यालय में पठन- पाठन तथा अनियमितता से नाराज लोग मुखिया पति सुनील गुप्ता के नेतृत्व में विद्यालय पहुंचे। 10.25 बजे बच्चे विद्यालय में पहुंच चुके थे, लेकिन शिक्षक नदारद थे और कक्षाओं में ताला लटक रहा था। कुछ देर बाद प्रधानाध्यापक मुमताज अहमद पहुंचे और विद्यालय का कार्यकाल आरंभ हुआ। लोगों ने प्रधानाध्यापक से अनुरोध किया कि कल से स्कूल नियत समय से खुले तथा पठन-पाठन नियमानुसार सुनिश्चित किया जाए। मौके पर अनिल कश्यप, डा. हरेंद्र कुमार, राकेश कुमार बबलू, राजू महतो आदि थे।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh