मुंगेर । बिजली चोरी रोकने के लिए कनीय अभियंता जितेंद्र कुमार के नेतृत्व में छापेमारी दस्ते ने तीन जगहों पर दस्तक दिया। तीनों जगहों पर बिजली चोरी करते हुए लोग रंगे हाथों पकड़े गए। तीनों पर तारापुर थाना में मुकदमा दर्ज किया गया है। कनीय अभियंता ने बताया कि 14 सितंबर को कार्यपालक अभियंता के निर्देश पर बिजली चोरी की रोकथाम के लिए अंतराम यादव, प्रभाकर सिंह, नवल किशोर सिंह, धीरज कुमार राय के साथ टीम का गठन किया गया था। छापेमारी दल ने राजगुरु मुहल्ला के लालमणि प्रसाद के घर पर जांच की। मीटर से जुड़े हुए मुख्य सर्विस वायर में मीटर से पूर्व एक दूसरा तार बायपास कर बिजली की चोरी की जा रही थी। विभाग बिजली को 22099 रुपये की क्षति पहुंचाया है। छापेमारी दल ने फजेलीगंज में राजन मंडल के यहां भी जांच हुई। पूर्व में स्व. सीताराम मंडल के नाम से एक विद्युत संबंध था जो बकाया राशि के कारण विद्युत विच्छेद किया जा चुका था। राजन मंडल एलटी लाइन से जुड़े एसएमडीवी बाक्स से अवैध तरीके से विद्युत संबंध जोड़कर विद्युत ऊर्जा की चोरी कर रहे थे। इन्होंने विद्युत ऊर्जा चोरी से विभाग को 50165 रुपये की हानि हुई है। छापेमारी दल पुरानी बाजार के रियाज आलम के दुकान पर जांच की। एलटी लाइन में अवैध तरीके से विद्युत संबंध जोड़कर बिजली चोरी की जा रही थी। विभाग को बिजली चोरी के माध्यम से 30760 रुपये का चुना लगाया। पूर्व में भी 6054 रुपये बकाया रहने पर विद्युत संबंध विच्छेद किया जा चुका है, इन्होंने 36819 रुपये जुर्माना लगाया गया। सभी ने इस संबंध में कोई कागजात प्रस्तुत नहीं किए। मुकदमा दर्ज होने के बाद किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

Edited By: Jagran