मुंगेर । कोतवाली के चुआबाग इलाके में प्री-पेड मीटर लगाने गई टीम पर मुहल्ले वालों ने हमला कर दिया। इसमें आठ दर्जन लोग जख्मी हुए। सूचना मिलते ही विद्युत विभाग के सहायक अभियंता मनोज कुमार ने जख्मी कर्मियों को इलाज के लिए सदर अस्पताल पहुंचाया। इस संबध में विद्युत विभाग के एसडीओ ने कहा बुधवार की सुबह एसएस इंफोलाइन प्राइवेट लिमिटेड की ओर से शहर के चुआबाग इलाके में प्री-पेड मीटर लगाने के लिए टीम गई थी। टीम के पहुंचते चुआबाग के कुछ युवा हाथों में लाठी-रड लेकर आए और प्री-पेड मीटर लगाने का विरोध करने लगे। इसके बाद वह लोग लाठी व रड से टीम के सदस्यों की पिटाई करनी शुरू कर दी। कई लोगों का मोबाइल भी तोड़ दिया। इस मारपीट में टीम के चंदन कुमार कुशवाहा,अंशु कुमार, नीतीश कुमार, सोनु कुमार,प्रिस कुमार, प्रज्वल कुमार, गुडडू कुमार और रामप्रवेश कुमार जख्मी हुए। इस संबध में सहायक विद्युत अभियंता ने चुआबाग के बंटी कुमार, विकास कुमार, विशाल कुमार को नामजद करते हुए कोतवाली थाना में मुकदमा दर्ज किया गया। कोतवाली थानाध्यक्ष नीरज कुमार ने कहा कि सभी आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी चल रही है। ------------------------------ मीटर लगाने में नहीं लिया जा रहा कोई शुल्क सहायक विद्युत अभियंता मनोज कुमार सिंह ने बताया कि विद्युत उपभोक्तताओं के घरों में प्री-पेड मीटर लगाने का काम तीन सप्ताह से चल रहा है। घरों में मीटर मुफ्त में लगाए जा रहे हैं। इसमें किसी तरह का शुल्क नहीं लिया जा रहा है। उपभोक्ता को किसी तरह की राशि नहीं देनी है। विद्युत आपूर्ति प्रमंडल मुंगेर शहरी को पहले चरण में 32 हजार प्री-पेड मीटर लगना है। जमालपुर में 16 हजार मीटर लगाए जाएंगें। अभी तक लगभग 1300 मीटर लगाने का काम पूरा हो गया है। पुराने विद्युत मीटर को हटाकर उपभोक्ताओं के घरों अथवा दुकानों में प्री-पेड मीटर लगना है। लोगो में प्री-पेड मीटर को लेकर भ्रांतियां फैलाया जा रहा है। लोगों का कहना है कि प्री-पेड मीटर तेजी से रीडिग करता है, लेकिन ऐसा नही है पूर्व के मीटर और प्री-पेड मीटर को एक साथ लगाकर जांच की गई है। दोनों में कोई अंतर नहीं है।

Edited By: Jagran