मुंगेर, जेएनएन। कोरोना वायरस के खौफ के बीच अब बिहार के मुंगेर जिले में बर्ड फ्लू ने दस्तक दे दी है। शनिवार को हवेली खड़गपुर प्रखंड क्षेत्र के कई गांव में पक्षियों की लगातार मौत की खबर से लोगों के बीच दहशत फैल गई। तेघड़ा गांव में अचानक दर्जनों कौए की मौत से लोगों में हड़कंप मच गया है। आसपास के ग्रामीणों और किसानों ने खेतों में मृत पड़े कौए को देख इसकी सूचना प्रशासनिक अधिकारियों को दी। बता दें कि पिछले चार दिनाें में पटना में 29 कौओं की मौत हो गई है। शुक्रवार को जहां 11 कौओं की मौत हुई, वहीं शनिवार को 18 और कौए मर गए। बता दें कि शुक्रवार को पटना में कई चमगादड़ों की भी मौत हो गई थी। सासाराम में भी कौए की मौत की खबर है।  

हवेली खड़गपुर स्थित तेघड़ा के ग्रामीणों ने बताया कि शनिवार को आम के बगीचे में पहुंचा तो वहां जगह-जगह कई कौए जमीन पर मृत पड़े थे। ग्रामीणों ने बताया कि सकिन्द्र सिंह के बगीचे के अलावा आसपास के खेतों में भी कई कौवे और अन्य पक्षियों को भी मृत अवस्था में देखा गया। उन्होंने बताया कि मृत पड़े कौओं को खाने के बाद तीन-चार कुत्ते की भी मौत हुई है।

ग्रामीण बर्ड फ्लू जैसे संक्रमण बीमारी की आशंका जता रहे हैं। इसके अलावा हवेली खड़गपुर थाना परिसर में भी तीन-चार चमगादड़ और दो कबूतर मृत पाए गए। इसके बाद सभी को डिस्पोज किया गया। यही नहीं, शुक्रवार को  अनुमंडल पदाधिकारी द्वारा भ्रमणशील पशु चिकित्सा पदाधिकारी को यह जानकारी दी गई कि कार्यालय परिसर में दो कबूतर मृत हैं और उनके आवासीय परिसर में तीन कौए बेहोशी की हालत में है। इसके बाद भ्रमणशील पशु चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. संजय कुमार ने जिला पशुपालन पदाधिकारी को भी इसकी सूचना दी। इधर, भ्रमणशील पशु चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. संजय कुमार ने तेघड़ा गांव पहुंचकर मृत पड़े अनेक कौओं के बारे में आसपास के  ग्रामीणों से जानकारी ली और एतिहात के तौर पर मृत कौओं को डिस्पोज किया।

डॉ. संजय कुमार ने बताया कि खड़गपुर में जांच की कोई व्यवस्था नहीं है। मृत पक्षियों के सैंपल इकट्ठा कर इसे जांच के लिए भेजा जा सकेगा। उन्होंने बताया कि यह जांच के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा  कि किस वजह से पक्षियों की मौत हुई है। गौरतलब है कि पटना में भी कौओं और चमगादड़ों की मौत हुई है। पिछले तीन दिनों में पटना हाईकोर्ट के निकट 11 कौओं की मौत हो गई है। इसकी वजह से कोर्ट के निकट दुकानों को बंद करा दिया गया है। वहीं कई चमगादड़ों की भी मौत हुई है। 

बोले डीएम 

हवेली प्रखंड क्षेत्र में पक्षियों के मरने की सूचना मिली है। जिला पशुपालन पदाधिकारियों को पक्षियों के वेसरा को जांच के लिए पटना भेजने के निर्देश दिए गए हैं। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा कि पक्षियों की मौत किस कारण से हुई है। अगर बर्ड फ्लू का पॉजिटिव रिपोर्ट आया, तो विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल प्रभावित क्षेत्र से लोगों को दूर रहने की सलाह दी गई है। जिला प्रशासन पूरी स्थिति पर नजर बनाए हुए है। 

- राजेश मीणा, डीएम, मुंगेर

Posted By: Rajesh Thakur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस