फोटो -

--------

संवाद सहयोगी, जमालपुर (मुंगेर) :

नई दिल्ली-भागलपुर साप्ताहिक एक्सप्रेस डाका कांड में पांचवें दिन पुलिस को सफलता मिली। रेल डीआइजी बीएन झा ने बताया कि घटना दुखद थी। बदमाशों को जल्द पकड़ना चुनौती थी। इस मामले की जांच के लिए पांच थानों के सक्रिय बदमाशों की कुंडली खंगाली गई। मुखबिरों की भी मदद ली गई। लूटे गए मोबाइल को सर्विलांस पर रखा गया था। इसी आधार पर पुलिस ने कुछ संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ भी की थी। पुख्ता जानकारी मिलने पर लखीसराय के सिंहचक से ट्रेन निशांत कुमार उर्फ अप्पू, रवि कुमार, विपिन कुमार को कांड में शामिल माना गया। गिरफ्तार किए गए तीनों शातिर बदमाश हैं। ये कई बार जेल जा चुके हैं। इनके पास से बरामद मोबाइल रेल यात्री संजय गुप्ता, सोनी शर्मा और विजेंद्र कुमार का है। एक लैपटॉप भी बरामद हुआ है। इसकी जांच की जा रही है।

=======

रात की सभी ट्रेनों में हुई एस्कार्ट पार्टी की व्यवस्था

डीआइजी ने बताया कि भागलपुर-किऊल रेलखंड के बीच चलने वाली रात्रि के सभी गाड़ियों में एस्कॉट पार्टी की व्यवस्था पुख्ता कर दी गई है। रेल जिला को और अतिरिक्त बल भी मुहैया कराए जाने की दिशा में पहल किया जा रहा है।

संवाददाताओं को जानकारी देते वक्त रेल एसपी आमिर जावेद, डीएसपी शुभेंदु कुमार अनुभवी, थानाध्यक्ष कामेश्वर ¨सह सहित एसआइटी में शामिल पुलिस पदाधिकारी मौजूद थे।

--------

क्या है पूरा मामला

साप्ताहिक एक्सप्रेस 9 जनवरी की रात लगभग 9 :40 बजे धनौरी-उरैन के बीच पवई दैताबांध के पास वैक्यूम कर डकैती की थी। कट्टा, पिस्टल, चाकू और रॉड लेकर ट्रेन में चढ़े सात बदमाशों ने एस-9, 8, 11, ऐसी के चार कोच में सवार दर्जनों यात्रियों से नकद, जेवरात सहित लाखों की लूट की थी। विरोध करने पर बदमाशों ने कुछ को चाकू से हमला किया था। ट्रेन के जमालपुर रुकने पर इस मामले में एफआइआर दर्ज की गई थी।

Posted By: Jagran