मुंगेर : छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सली हमले में मारे गए सीआरपीएफ जवान अजय कुमार यादव का पार्थिव शरीर जैसे ही सफियाबाद हवाई अड्डा से उनके ईस्टकालोनी थाना क्षेत्र के सिकन्दरपुर स्थित आवास पर पहुंचा ग्रामीणों सहित परिजन की चीख पुकार से पूरा माहौल गमगीन हो गया। शहीद के शव को देखते ही सभी की आंखें नम हो गई। इस बीच डीएम उदय कुमार ¨सह और एसपी आशीष भारती ने परिजनों से बात कर परिजनों को हर प्रकार के सहयोग का भरोसा दिलाया। वहीं शहीद अजय के परिवार वालों ने शहीद के दो छोटे छोटे बच्चों को देखते हुए डीएम से शहीद की पत्नी को केंद्रीय विद्यालय जमालपुर में नौकरी दिलवाने की मांग रखी। इसके साथ ही कोलकाता में पोस्टेड शहीद के भाई को जमालपुर में पो¨स्टग करवाने की भी मांग रखी। परिजनों की मांग स्वीकार कर डीएम और एसपी ने हर संभव मदद का आश्वासन दिया।

By Jagran