जेएनएन , मुंगेर। स्विटजरलैंड के जेनेवा में 25 मई को आयोजित होने वाले हेल्थ समिट में व्याख्यान देने के लिए मुंगेर के लाल डॉ. नीतीश चंद्र दुबे को आमंत्रित किया गया है। यूएनएसडीजी के तत्वाधान में आयोजित होने वाला हेल्थ समिट व‌र्ल्ड हेल्थ फोरम, भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं महिला विकास मंत्रालय और वोकहार्ट फाउंडेशन के सहयोग से आयोजित किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए यूएनएसडीजी हेल्थ पार्टरनशिप के जनरल सेक्रेट्री डॉ. हुज ने डॉ. नीतीश को पत्र भेजा है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य सभी को प्राथमिक स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराना, स्वास्थ्य व्यवस्था को मजबूत करने और डिजिटल स्वास्थ्य के क्षेत्र में सतत विकास को बढ़ावा देना है। समिट में स्वास्थ्य के क्षेत्र में 2030 तक होने वाले बदलाव व चुनौतियों पर भी चर्चा होगी। इस कार्यक्रम की रूपरेखा डब्ल्यूएचओ के 72 वें व‌र्ल्ड हेल्थ असेंबली में बनाई गई थी। इस समिट में स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम करने वाले 50 देशों के 500 से अधिक लोगों को आमंत्रित किया गया है। इसमें स्वास्थ्य मंत्रियों, कंपनियों, यूनएन, डब्ल्यूएचओ के बड़े अधिकारियों, बड़े वैज्ञानिकों, पॉलिसी मेकर के अलावा स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि भी भाग लेंगे। विमर्श के बाद स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए नेशनल और ग्लोबल प्लेटफार्म तैयार होगा, जो स्वास्थ्य के क्षेत्र में आ रही चुनौतियों का सामना करने में सक्षम होगा। अल्टरनेटिव मेडिसिन से भारत से पतंजलि योगपीठ के आचार्य बालकृष्ण और हरिओम होम्योपैथी के डॉ नीतीश दुबे को आमंत्रित किया गया है। बताते चलें कि इससे पहले भी डॉ नीतीश यूनाइटेड नेशन में सम्मानित हो चुके हैं। वहीं, इंटरनेशनल हैनिमैन अवार्ड, ब्रिटिश पार्लियामेंट में अवार्ड पाकर मुंगेर का मान बढ़ा चुके हैं।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप