मुंगेर । आगामी विधानसभा चुनाव को तीन महीने के लिए स्थगित करने, बिहार में राष्ट्रपति शासन लागू करने, नीतीश सरकार को बर्खास्त करने, मुंगेर में मेडिकल कॉलेज की स्थापना ,बढ़ते अपराध, पेयजल की व्यवस्था, ग्रामीण कार्य मंत्री द्वारा मस्जिद के अतिक्रमित भूमि को अविलंब कबजा मुक्त करने सहित विभिन्न सवालों को लेकर समाजवादी पार्टी ने क्रांति दिवस के अवसर पर 10 किलोमीटर की साइकिल रैली निकाली। सपा जिलाध्यक्ष पप्पू यादव के नेतृत्व में दर्जनों सपा कार्यकर्ताओं ने जमालपुर छह नंबर गेट स्थित अंबेडकर चौक से बाबा साहब अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर साइकिल यात्रा की शुरुआत की। जो जमालपुर भारत माता चौक, जुबली वेल होते हुए जिला समाहरणालय पहुंची। इस दौरान सपा कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। वहीं, राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन भी सौंपा। इसके बाद किला क्षेत्र स्थित अंबेडकर की प्रतिमा पर सपा कार्यकर्ताओं ने माल्यार्पण किया। बाद में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए सपा जिलाध्यक्ष पप्पू यादव ने कहा कि कोरोना और बाढ़ ने विकास के दावों की पोल खोल कर रख दी है। भ्रष्टाचार में आकंठ डूबी शासन और प्रशासन का चेहरा बेनकाब हो गया। यह स्पष्ट हो गया कि 15 वर्षों मुख्यमंत्री नीतीश कुमार केवल बिहार की भोली-भाली जनता को सब्जबाग दिखाते रहे और अब लाशों की ढेर पर राजनीति करने वाले नीतीश सरकार की विदाई तय है। बिहार में लोकतंत्र की हत्या करने के उद्देश्य से इस महामारी में भी चुनाव करने पर अड़ी राज्य सरकार को अविलंब बर्खास्त कर राजय में राष्ट्रपति शासन लागू किया जाना चाहिए। इस अवसर पर पार्टी के प्रधान महासचिव मनोज कुमार मधुकर ने कहा कि सत्ता परिवर्तन तक सपा कार्यकर्ताओं का अभियान जारी रहेगा। यात्रा में उपाध्यक्ष विद्या किशोर, रामनाथ राय, महासचिव अशोक भारत, प्रवक्ता गणेश पोद्दार, मीडिया प्रभारी मनोज क्रांति, धरहरा अध्यक्ष नीरज यादव, जमालपुर अध्यक्ष अमर शक्ति, नगर अध्यक्ष मोहम्मद आजम, सदर प्रखंड अध्यक्ष ईश्वर मंडल, जिला सचिव नकुल यादव, सुरेंद्र यादव, मनीष यादव आदि मौजूद थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस