मधुबनी। सकरी थाना क्षेत्र में एनएच-57 पर सकरी नवादा के पास दुर्घटना में एक युवक की मौत हो गई। वहीं एक गंभीर रूप से घायल हो गया। हादसे से आक्रोशित लोगों ने घंटों सड़क जाम कर हंगामा किया। वे मुआवजे की मांग कर रहे थे। पदाधिकारियों ने काफी मशक्कत के बाद लोगों को समझा बुझाकर जाम हटवाया। मृतक की पहचान दरभंगा के सकरी निवासी शंकर मंडल के छोटे बेटे सतीश कुमार (19) के रूप में हुई है। वहीं लालटुन कुमार साह (18) को डीएमसीएच रेफर कर दिया गया है।

बताया जा रहा कि सतीश कुमार व उसका दोस्त लालटुन बाइक से झंझारपुर से सकरी की ओर आ रहा था। सकरी नवादा के निकट उसकी बाइक को पीछे से तेज गति से आ रहे अज्ञात वाहन ने ठोकर मार दी। इसके बाद दरभंगा की ओर भाग निकला। वाहन की चपेट में आने से बाइक चला रहे सतीश की मौके पर ही मौत हो गई। पीछे बैठा प्रमोद साहु का पुत्र लालटुन गंभीर रूप से जख्मी हो गया। उसे आनन-फानन में स्थानीय लोगों ने सकरी स्थित एक निजी नर्सिंग होम ले गए। यहां से घायल की गंभीर अवस्था को देखते हुए डीएमसीएच दरभंगा रेफर कर दिया गया। वहीं दुर्घटना से आक्रोशित लोग एनएच-57 को जाम कर मुआवजे की मांग करने लगे। सूचना मिलते ही सकरी थानाध्यक्ष अशोक कुमार, एसआइ अमरनाथ ठाकुर, एएसआइ मो. फहीम खां, पंडौल थाना के एसआइ जितेन्द्र कुमार सिंह, एएसआइ मुन्ना मांझी बल के साथ पहुंचे। बाद में सीओ पंकज कुमार घटनास्थल पर पहुंच आक्रोशितों से वार्ता करते हुए हर संभव सरकारी मदद करने का आश्वासन दिया। इस दरम्यान लगभग एक घंटा एनएच जाम रहा। इससे सड़क के दोनों ओर सैकड़ों वाहनों की कतारें लगी रहीं।

मृतक के परिजनों व वहां के मुखिया गणेश मंडल ने बताया की दोनों युवक बुधवार शाम ही झंझारपुर बहन के यहां गया था। सुबह दोनों युवक वहां से खाना खाकर घर के लिए निकले थे। मगर, दोनों के साथ ऐसा हादसा हो गया। मृत युवक सकरी रेलवे स्टेशन पर पार्किंग कर्मी के रूप में कार्यरत था। दुर्घटना के बाद उसके गांव में मातमी सन्नाटा फैल गया है। परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। पुलिस ने युवक के शव को मधुबनी पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मृतक के पिता के बयान पर मामला दर्ज किया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस