मधुबनी। बेंगलूरु से अपने घर बाबूबरही के लिए चला एक युवक पटना से लापता हो गया है। बताया जा रहा कि तबीयत खराब होने के कारण एक बस के कंडक्टर ने उसे मीठापुर बस स्टैंड में उतार दिया। वह गुरुवार रात तक घर नहीं पहुंच सका है। उसका मोबाइल भी स्वीच ऑफ आ रहा है।

प्रखंड क्षेत्र के मैनाडीह गांव निवासी के संतोष कुमार मंडल (40) डेढ़ वर्ष से बंगलौर में कुक का काम करता है। 21जून को बेंगलूर से संघमित्रा एक्सप्रेस ट्रेन से घर के लिए रवाना हुआ। उसके साथ फुलपरास थाना क्षेत्र के जमैला गांव के भी कुछ लोग थे। उनकी मानें तो ये लोग साथ-साथ पटना में 23 जून को ट्रेन से उतरे। वहां से मीठापुर बस स्टैंड आए। यहां फुलपरास जाने वाली बस में सभी लोग बैठ गए। मगर, संतोष को बुखार रहने की बात बस में बैठे पैसेंजरो ने भांप ली। कोरोना के भय को लेकर पैसेंजरों के कहने पर उसे बस से स्टैंड में ही उतार दिया गया। तब से उसका मोबाइल भी बंद है। उसे खोजने पुत्र रोहित कुमार मंडल व ललन कुमार पटना में दर-दर भटक रहे। मगर, कोई सुराग नहीं मिल रहा है। इधर, पत्नी ने खाना-पीना छोड़ दिया है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस