मधुबनी । जिला पदाधिकारी अमित कुमार की अध्यक्षता में वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के माध्यम से पदाधिकारियों की बैठक हुई। इसमें जिलास्तर से लेकर प्रखंड स्तर के पदाधिकारी शामिल हुए। बैठक में जिला पदाधिकारी अमित कुमार ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए कोरोनारोधी टीका ही असरदार है। उन्होंने कहा कि जिले में जनवरी से टीकाकरण अभियान शुरू हुआ था। जिले के 32 लाख लोगों को टीकाकरण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। निर्धारित लक्ष्य के विरुद्ध मंगलवार तक 4.62 लाख लोगों का ही टीकाकरण किया जा सका है। टीकाकरण अभियान को गति देने के लिए जिले के सभी प्रखंडों में अतिरिक्त सत्र स्थल बनाकर एवं टीका एक्सप्रेस के माध्यम से लोगों को घर-घर टीका दिया जा रहा है।

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. एसके विश्वकर्मा ने कहा कि जिले में मंगलवार 15 जून तक चार लाख 62 हजार 430 लोगों का वैक्सीनेशन किया जा चुका है। जिसमें 16,275 हेल्थ केयर वर्कर को प्रथम डोज, 12,502 हेल्थ केयर वर्कर को दूसरा डोज, 11,180 फ्रंटलाइन वर्कर को प्रथम डोज, 5,364 फ्रंटलाइन वर्कर को दूसरा डोज, 1,58,161 लोग जो 60 वर्ष से ऊपर के हैं, को प्रथम डोज, 42,656 लोगों को दूसरा डोज और 45 से 59 वर्ष के 1,01,733 लोगों को प्रथम डोज, 20,697 लोगों को दूसरा डोज दिया जा चुका है। वहीं 93,862 युवाओं का भी टीकाकरण किया जा चुका है। सिविल सर्जन डॉ. सुनील कुमार झा ने कहा कि वक्त की जरूरत है कोरोनारोधी वैक्सीन की रफ्तार को तेज किया जाए ताकि सभी लोगों का टीकाकरण पूरा करके उन्हें कोरोना जैसी महामारी से निजात दिलवाई जा सके। हर स्थानीय नागरिक तक शीघ्र कोरोना का टीका पहुंचाने के लिए स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी लगातार प्रयास कर रहे हैं। एसडीएम ने टीका केंद्रों का किया निरीक्षण बेनीपट्टी : अनुमंडल पदाधिकारी अशोक कुमार मंडल ने बुधवार को कोविड टीका केंद्रों का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने कई निर्देश भी दिए। एसडीएम ने बेनीपट्टी प्रखंड के मध्य विद्यालय, एमएस तिसियाहि एवं हरलाखी व मधवापुर प्रखंड के कई कोविड वैक्सीनेशन केंद्रों का निरीक्षण किया। अनुमंडल पदाधिकारी ने कोविड टीका लेने के लिए लोगों को जागरूक करने एवं मास्क पहनने का निर्देश दिया। कहा कि कोरोना महामारी से बचाव के लिए कोविड का टीका जरूरी है। कोरोना से घबराए नहीं, सतर्कता बरतें। कोविड टीकाकरण से ही कोरोना पर विजय प्राप्त किया जा सकता है।

Edited By: Jagran