मधुबनी । स्थानीय दुर्गा मैदान में गुरुवार को खुटौना पंचायत की प्रथम ग्राम सभा नवनिर्वाचित मुखिया नेहा देवी की अध्यक्षता में हुई। सभा स्थल पर पंचायत वासियों के सूचनार्थ पंचायत की विकास योजनाओं की विवरणी का पट प्रदर्शित किया गया था। ग्राम सभा में 15 वार्डों के वार्ड सदस्यों के अलावा पंचायत समिति सदस्य, सरपंच तथा वार्ड पंच उपस्थित थे। सभा में पंचायत सचिव घनश्याम तिवारी के अलावा पर्यवेक्षक के तौर पर आवास पर्यवेक्षक अंशु माला मौजूद थी। प्रखंड की पंचायती राज योजनाओं के संचालन से जुड़े कनीय अभियंता आसिफ, पंचायत राज लेखा पाल सरिता कुमारी तथा कार्यपालक सहायक अभिलाषा कुमारी उपस्थित थी। मुखिया नेहा देवी ने सर्वप्रथम पंचायत वासियों को नववर्ष की शुभकामनाएं दी। उन्होंने अपने आरंभिक संबोधन में कहां कि आपसी समझदारी और सहयोग से हम सभी पंचायत की योजनाओं को कामयाबी के साथ जमीन पर उतार सकते है। कहां कि यह पंचायत खुटौना प्रखंड मुख्यालय की पंचायत है, बावजूद योजनाओं के कार्यान्वयन के मामले में बहुत पीछे है। उन्होंने भरोसा दिलाया कि सभी के सहयोग से पारदर्शिता के साथ योजनाओं का संचालन होगा। मुखिया के संबोधन के बाद पंचायत प्रतिनिधियों तथा विभिन्न वार्डों के लोगों ने मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना पर सवाल उठना शुरू किया। पंचायत समिति प्रतिनिधि रामचंद्र कामत ने कहा कि पंचायत के वार्ड तीन में नल-जल योजना पूरी तरह फेल है। वार्ड 11 की वार्ड सदस्य के प्रतिनिधि के तौर पर उपस्थित दीपक कुमार चौधरी ने कहा कि पंचायत चुनाव के नतीजे घोषित होने के साथ ही वार्ड 11 अर्थात गांधी चौक से हॉस्पिटल तक नल से पानी आना बंद हो गया। मो. तैयब सिद्दीकी ने दुर्गा स्थान की गंदगी का मामला उठाया और कहा कि दुर्गा मंदिर परिसर जैसी पवित्र जगह की गंदगी चिता का विषय है। मुखिया प्रतिनिधि राजेश कुमार साह ने प्रधानमंत्री आवास योजना के संबंध में कहा कि इच्छुक लोग आवेदन करे, ऑनलाइन के समय ध्यान दिया जाएगा। उन्होंने कोरोना कि संभावित तीसरी लहर के मद्देनजर कोविड अनुरूप व्यवहार चेहरे पर मास्क लगाने, दो गज की दूरी कायम रखने, मुंह एवं हाथ साफ रखने, भीड़भाड़ से बचने तथा अफवाहों से बचने की अपील की।

------------------------

Edited By: Jagran