मधुबनी। दरभंगा प्रमंडल के क्षेत्रीय शिक्षा उप निदेशक ने मधुबनी जिले में फर्जी संस्कृत शिक्षकों को वेतन भुगतान कर दिए जाने तथा कार्यालय व्यय मद की राशि की कथित गबन की शिकायत को काफी गंभीरता से लिया है। इन दोनों ही मामलों में दरभंगा प्रमंडल के क्षेत्रीय शिक्षा उप निदेशक ने मधुबनी के जिला शिक्षा पदाधिकारी से स्पष्ट मंतव्य के साथ जांच प्रतिवेदन तलब किया है। हालांकि उक्त दोनों मामलों में दरभंगा प्रमंडल के क्षेत्रीय शिक्षा उप निदेशक ने पहले भी स्पष्ट मंतव्य के साथ मधुबनी के डीईओ से जांच प्रतिवेदन तलब किया था। लेकिन, निर्धारित समय-सीमा में मंतव्य के साथ जांच प्रतिवेदन उपलब्ध नहीं कराने पर दरभंगा प्रमंडल के क्षेत्रीय शिक्षा उप निदेशक ने मधुबनी के जिला शिक्षा पदाधिकारी को पुन: स्मार पत्र जारी किया है। गौरतलब है कि माकपा जिला कमेटी सदस्य राजेश कुमार मिश्र ने दरभंगा प्रमंडल के क्षेत्रीय शिक्षा उप निदेशक को आवेदन समर्पित कर मधुबनी जिले में संस्कृत विद्यालयों के दर्जनों फर्जी संस्कृत शिक्षकों को अनियमित रूप से वेतन भुगतान कर दिए जाने की शिकायत करते हुए जांच व जांच में दोषी पाए जाने वाले पदाधिकारियों एवं कर्मियों पर सख्त कार्रवाई करने का अनुरोध किया था। ताकि वेतन भुगतान में फर्जीवाड़ा पर नकेल कसा जा सके। इसी शिकायत को गंभीरता से लेते हुए दरभंगा प्रमंडल के क्षेत्रीय शिक्षा उप निदेशक ने मधुबनी के जिला शिक्षा पदाधिकारी को पत्रांक-917, दिनांक- 24.07.2019 के तहत निर्देश दिया था कि माकपा जिला कमेटी सदस्य राजेश कुमार मिश्र के आवेदन में उल्लेखित तथ्यों की बिदुवार जांच कर मंतव्य के साथ जांच प्रतिवेदन एक सप्ताह के अंदर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। ताकि अग्रेतर कार्रवाई की जा सके। लेकिन निर्धारित समय अवधि में जांच प्रतिवेदन उपलब्ध नहीं कराने के कारण अग्रेतर कार्रवाई नहीं की जा सकी है। जिस कारण दरभंगा प्रमंडल के क्षेत्रीय शिक्षा उप निदेशक ने मधुबनी के डीईओ को स्मार पत्र भेजते हुए पुन: निर्देश दिया है कि उक्त वांछित प्रतिवेदन स्पष्ट मंतव्य के साथ शीघ्र उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें, ताकि नियमानुसार आवश्यक कार्रवाई की जा सके।

वहीं दूसरी ओर दरभंगा प्रमंडल के क्षेत्रीय शिक्षा उप निदेशक ने संबंधित जिला कार्यक्रम पदाधिकारी-स्थापना, मधुबनी एवं संबंधित प्रभारी प्रधान लिपिक द्वारा कथिततौर पर कार्यालय व्यय मद की राशि वित्तीय वर्ष 2018-19 का गबन करने संबंधित शिकायत के मामले में भी मधुबनी के डीईओ को शीघ्र सुष्पट मंतव्य के साथ प्रतिवेदन समर्पित करने का निर्देश दिया है, ताकि अग्रेतर कार्रवाई की जा सके। इसके लिए जारी स्मार पत्र में दरभंगा प्रमंडल के क्षेत्रीय शिक्षा उप निदेशक ने उल्लेख किया है कि विभिन्न तिथियों को जारी चार पत्रों के माध्यम से इस मामले में मंतव्य के साथ प्रतिवेदन की मांग की गई थी, जो अप्राप्त है। जिस कारण अग्रेतर कार्रवाई संभव नहीं हो सका है। जबकि यह मामला वित्तीय अनियमितता एवं गबन से जुड़ा है। इस मामले में एक बार फिर दरभंगा प्रमंडल के क्षेत्रीय शिक्षा उप निदेशक ने मधुबनी जिले के डीईओ को सुस्पष्ट मंतव्य के साथ शीघ्र प्रतिवेदन उपलब्ध कराने का सख्त निर्देश दिया है, ताकि नियमानुसार अग्रेतर कार्रवाई की जा सके। गौरतलब है कि उक्त मामले की शिकायत माकपा जिला कमेटी सदस्य राजेश कुमार मिश्र एवं जिला जदयू महासचिव फुलदेव यादव व जिला पार्षद विक्रमशीला देवी द्वारा लिखित आवेदन के माध्यम से की गई थी।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप