मधुबनी। राजनगर, स्थानीय राजपरिसर स्थित सशस्त्र सीमा बल की 18वीं वाहिनी मुख्यालय परिसर में सेक्टर मुख्यालय मुजफ्फरपुर के अधीन संचालित वाहिनी के सेनानायकों,एरिया ऑफिस के पदाधिकारियों,सामान्य प्रशासन,कस्टम व उत्पाद विभाग समेत खुफिया सूचना तंत्र से जुड़े अन्य विभागों के पदाधिकारियों की संयुक्त बैठक आयोजित की गई। बैठक की अध्यक्षता क्षेत्रीय मुख्यालय मुजफरपुर के उपमहानिरीक्षक एकेसी ¨सह ने की।

बैठक का शुभारम्भ स्थानीय राजपरिसर स्थित एसएसबी की 18वीं वाहिनी के सेनानायक अजय कुमार द्वारा डीआईजी एकेसी ¨सह समेत सभी पदाधिकारियों का स्वागत व अभिनन्दन से हुआ। बैठक को संबोधित करते हुए डीआइजी एकेसी ¨सह ने कहा कि एसएसबी भारत-नेपाल सीमा पर आपराधिक गतिविधियों,फर्जी मुद्रा व्यापार,आतंकी वारदातों व तस्करी पर लगाम लगाये जाने को प्रतिबद्ध है। इस दायित्व को निभाने में प्रशासनिक व पुलिस पदाधिकारियों समेत अन्य सभी विभागों के द्वारा संग्रहित खुफिया सूचनाओं व अन्य जानकारियों का आदान-प्रदान आवश्यक है। बैठक में उपस्थित पदाधिकारियों ने भारत-नेपाल सीमा की सुरक्षा तथा सीमा पार अपराध को रोकने की आवश्यकता जताई। इस हेतु आपसी ताल-मेल से सुरक्षा तंत्र को मजबूत बनाये जाने का निर्णय लिया गया। जिससे सीमा क्षेत्र में निवास करने वाले नागरिक स्वयं को सुरक्षित महसूस कर सकें। बैठक में 18वीं वाहिनी के कमांडेंट अजय कुमार,असिस्टेंट कमान्डेंट मणिराम,20वीं वाहिनी के डिप्टी कमान्डेंट तपन कुमार दास,51वीं वाहिनी के डिप्टी कमांडेंट लोकेश कुमार,48वीं वाहिनी के डिप्टी कमान्डेंट धीरज कुमार,उप क्षेत्रीय कार्यालय मधुबनी व सीतामढ़ी के एसएओ क्रमश: राजन कानन व एके बडोला,एसडीओ जयनगर शंकर शरण ओमी,एसडीपीओ सदर कामिनी बाला,आईबी के पदाधिकारी सतीश पी,ड्रग इंस्पेक्टर मधुबनी समेत कस्टम व उत्पाद विभाग के पदाधिकारी समेत कस्टम व एक्साइज विभाग के पदाधिकारी भी मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप