मधुबनी। जिला मुख्यालय में समाहरणालय स्थित जिला पंचायत शाखा में पदस्थापित लिपिक सुनील कुमार से पिस्टल की नोंक पर 50 हजार रुपये रंगदारी मांगने की घटना शनिवार को घटी। चौबीस घंटे के अंदर रंगदारी नहीं देने अथवा मधुबनी से स्थानांतरण नहीं करवा लेने पर गोली मारने की भी धमकी दी गई। लिपिक सुनील कुमार ने इस घटना की लिखित सूचना जिला पदाधिकारी एवं नगर थानाध्यक्ष को देकर धमकी देने वालों के विरूद्ध आवश्यक कानूनी कार्रवाई करने का अनुरोध किया है। जिला पदाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने इस घटना को गंभीरता से लेते हुए सदर एसडीओ को निरोधात्मक कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। जिलाधिकारी व नगर थानाध्यक्ष को दिए गए आवेदन में लिपिक सुनील कुमार ने उल्लेख किया है कि वे जिला मुख्यालय के ऑफिसर कॉलोनी स्थित सरकारी आवास में सपरिवार रहते हैं। शनिवार को जब वे अपनी पत्नी और दो माह के बच्चे को लेकर बाइक से जा रहे थे तो प्रगतिनगर के पास कन्हैया कुमार भारद्वाज ने उनके सिर पर पिस्टल तान दिया और गालियां देते हुए चौबीस घंटे के अंदर 50 हजार रुपये रंगदारी देने या फिर यहां से स्थानांतरण करवा लेने की धमकी दिया। अन्यथा आज नहीं तो कल गोली मार देने की धमकी भी दिया। आवेदन में उल्लेख किया है कि कन्हैया उनसे पहले भी दस हजार रुपये मांग किया था। लिपिक सुनील कुमार लदनियां थाना क्षेत्र के लदनियां का रहने वाला है। वहीं घटना की सूचना मिलने पर नगर थाना पुलिस भी घटनास्थल का जायजा लेते हुए छानबीन में जुट गई है। अपर थानाध्यक्ष (अनुसंधान) चंद्रकेतु ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप